Breaking News

स्वच्छता अभियान के अंतर्गत सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की विभिन्न मीडिया इकाइयों में चला सफाई अभियान

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ : स्वच्छता अभियान 3.0 पूरे देश में स्वच्छता और जागरूकता बढ़ाने की दिशा में केंद्र सरकार का एक महत्वपूर्ण कदम है. मुख्य अभियान 02 अक्टूबर, 2023 से शुरू हुआ और 31 अक्टूबर, 2023 तक चलेगा। अभियान के दौरान, कार्यालयों में कार्यस्थल की जगह बढ़ाने और स्वच्छता पर जनता के बीच जागरूकता पैदा करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
सोशल मीडिया, बैनर, पोस्टर और आकर्षक पेंटिंग प्रतियोगिताओं सहित कई माध्यमों से इस अभियान के बारे में सार्वजनिक जागरूकता फैलाई जारही है है। केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालय और विभाग अपने अपने स्तर से स्वच्छता को लेकर कार्य कर रहे हैं.

सूचना और प्रसारण मंत्रालय देश के विभिन्न भागों में स्थित इसके अधीनस्थ/संबद्ध कार्यालयों में विशेष अभियान 3.0 सुचारु रूप से संचालित कर रहा है जिसमें आउटडोर और इंडोर अभियान चलाए गए हैं. कार्यालयों और बाहर के स्थानों को स्वच्छ किया गया है तथा कबाड़ और पुराने समानों का निपटान किया गया है।कार्यालयों में कागजी फाइलों और ई -फायलों की समीक्षा की गई और अनुपयोगी फायलो को नष्ट कर स्थान रिक्क्त किये जारहे है.

मंत्रालय इस अभियान में किए गए प्रयासों के प्रचार के लिए सोशल मीडिया और अन्य प्लेटफार्मों का सक्रिय रूप से उपयोग कर रहा है। स्वच्छता के संदेश को फैलाने और जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए अन्य माध्यमों सहित मंत्रालय के आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल के माध्यम से ट्वीट पोस्ट/री-पोस्ट किये गये हैं।
इस दौरान पत्र सूचना कार्यलय, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के महानिदेशक योगेश बवेजा ने स्वच्छता अभियान 3.0 के तहत लखनऊ स्थित सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की विभिन्न मीडिया इकाइयों पीआईबी, केंद्रीय संचार ब्यूरो, प्रकाशन विभाग तथा प्रसार भारती के अंतर्गत दूरदर्शन और आकाशवाणी के कार्यालयों और स्थलीय निरिक्षण किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए ।

गौरतलब है की स्वच्छता अभियान के तहत सरकारी कार्यालयों द्वारा बेकार और अनुपयोगी सामान की निकासी का कार्य भी इस दौरान किया जा रहा है। इन कार्यालयों में पुरानी फाइल के अलावा ई- फाइलों का भी निपटारा हो रहा है।

पत्र सूचना कार्यालय लखनऊ द्वारा इस अभियान के दौरान लगभग 5000 किलो कबाड़ तथा पुराने सामान का निष्पादन कर लगभग 89 हजार रूपये अर्जित कर सरकारी कोष में जमा कराये. इस दौरान 124 पुरानी फायलों की समीक्षा कर 90 फाईलों को नष्ट कर स्थान रिक्त किया गया. इसी प्रकार केंद्रीय संचार ब्यूरो द्वारा लगभग पौने दो कुंतल कबाड़ का निस्तारण कर लगभग चार हजार 800 रूपये अर्जित किये और पुराने 77 रजिस्टर और फायलों का निस्तारण किया और स्थान रिक्त कराया. आकाशवाणी में इस दौरान लगभग 600 किलो कबाड़ चिन्हित कर निस्तारित किया जारहा है और 300 निष्परयोज्य फाइलें नष्ट की गयीं.
इसी तरह दूरदर्शन ने 229 किलोग्राम कबाड़ का निस्तारण कर किया और 1200 किलोग्राम लोहे के कबाड़ निस्तारण की प्रक्रिया जारी है. यहाँ पर 3201 फायलें और रजिस्टर निष्परयोज्य पाए गये जिन्हें नष्ट किया जा रहा है.

Loading...

Check Also

वेडिंग फैशन : राशि खन्ना एथनिक वेडिंग लुक ने नजर आयीं

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : अनुग्रह और शैली की प्रतीक राशि खन्ना ने हाल ही ...