Breaking News

एमएसएमई विभाग एवं रोजगार भारती ने मिलकर महिलाओं को दीपावली पूर्व उद्यमिता क्षेत्र में किया प्रोत्साहित

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, आगरा : एमएसएमई विकास कार्यालय एवं रोजगार भारती द्वारा संयुक्त रूप से उद्यमिता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन विद्या भारती स्कूल, नरीपुरा, जगनेर रोड, आगरा में किया गया ! जिसमें उपस्थित महिलाओं को मेहंदी एवं श्रंगार क्षेत्र में स्वरोजगार अपनाने हेतु प्रेरित किया गया !
इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. श्वेता चौधरी सहायक प्रोफेसर, सेठ पदमचंद जैन प्रबंधन संस्थान, आगरा ने समूह में महिला उद्यमिता क्षेत्र में कार्य करने वाली साधारण महिलाओं रूमा देवी, कल्पना सरोज, वंदना लूथरा क्वलिंग कार्य, मूर्तियां इत्यादि का बेहतरीन उदाहरण देकर प्रोत्साहित किया !

रोजगार भारती के प्रांत संयोजक सीए प्रमोद सिंह चौहान ने भारतीय परिपेक्ष्य में पुरानी कहावत “उत्तम खेती – मध्यम बान, अधम चाकरी – भीख समान, का उदाहरण देते हुए बताया कि भारतीय परिपेक्ष में खेती को उत्तम माना जाता था उसके बाद व्यापार क्षेत्र को और नौकरी को बहुत ही नीचे माना जाता था ! आज के परिप्रेक्ष्य में हमें स्वरोजगार अपनाना चाहिए, उन्होंने बताया कि जिस प्रकार बीकानेर भुजिया वाला 80 वर्ष पूर्व बीकानेर से आकर दिल्ली चांदनी चौक पर एक टोकरी में नमकीन बेचकर, उसके बाद ठेले में बेचकर उसने व्यापार को आगे बढ़ाया ! उनकी पीढ़ी के लोगों ने पूरे देश भर में अच्छा उदाहरण प्रस्तुत किया है ! कोई भी व्यक्ति इस प्रकार से अपनी एक छोटी शुरुआत करके मेहनत और लगन से बड़ा बन सकता है !

डॉ मुकेश शर्मा, आईईएस, सहायक निदेशक ग्रेड 1, एमएसएमई ने बताया कि शुरुआत में कौशल विकास अर्जन कर रोजगार के रूप में जो आप धन अर्जित करते हैं वह एक खुशी का क्षण होता है, अपने द्वारा कमाया हुआ धन स्वरोजगार को बढ़ाने में प्रेरित और आत्मनिर्भरता पैदा करता है ! उन्होंने प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत पंजीकरण प्रशिक्षण टूलकिट की उपलब्धता एवं बैंक द्वारा प्रदत्त पांच प्रतिशत ब्याज में ₹ 100000 का ऋण, उसके पश्चात आवश्यकतानुसार 2 लाख का ऋण की जानकारी भी उपलब्ध कराई !

भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक, आगरा शाखा के प्रबंधक आकाश सोनी ने बताया कि स्वयं सहायता समूह एवं सूक्ष्म वित्तीय संस्थाओं के माध्यम से महिलाएं अपना कोष बनाकर, कार्य कर, आगे बढ़ सकती हैं ! उन्होंने अपील की, कि प्रत्येक छोटे-छोटे उद्यमी को बैंकिंग प्रणाली से जुड़ना चाहिए, साथ ही उन्होंने जिनके पास पैन नंबर या जीएसटी रजिस्ट्रेशन नहीं है उनको उद्यम पंजीकरण पोर्टल के स्थान पर उद्यम सहायता पोर्टल से जोड़ने हेतु भी आग्रह किया ! इस दौरान रोजगार भारती द्वारा तीन दिवसीय मेहंदी प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रमाण पत्र वितरण भी किए गए !
कार्यक्रम का संचालन राजवीर सिंह सह विभाग संयोजक रोजगार भारती एवं धन्यवाद ज्ञापन नितेश जैन ने दिया ! यतेंद्र द्विवेदी छावनी महानगर संयोजक, देवेंद्र सिंह नेगी संयोजक लवकुश नगर, रमाशंकर जी कार्यालय प्रमुख, ज्योति नारायण मेहंदी आयाम प्रमुख छावनी महानगर, शिवनारायण नगर अध्यक्ष सेवा भारती, झम्मन सिंह सह मंत्री छावनी महानगर सेवा भारती का सहयोग रहा !

Loading...

Check Also

वेडिंग फैशन : राशि खन्ना एथनिक वेडिंग लुक ने नजर आयीं

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : अनुग्रह और शैली की प्रतीक राशि खन्ना ने हाल ही ...