Breaking News

आईआरसीटीसी “राजधानी और अगस्त क्रांति” ट्रेनों में ब्रेकफास्ट में मिलेट पैटी लेकर आया, गोदरेज यमीज़ के साथ की साझेदारी

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : साल 2023 को इंटरनेशनल ईयर ऑफ मिलेट्स के रूप में मनाया जा रहा है, ऐसे में गोदरेज टायसन फूड्स लिमिटेड (जीटीएफएल) के प्रमुख फ्रोज़न रेडी-टू-कुक प्रोडक्ट्स ब्रांड गोदरेज यमीज़ और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्‍म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) ने यात्री ट्रेनों में मिलेट पैटी लाने के लिए सहयोग किया है। इस साल के शुरूआत में पेश की गई गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी को लोगों ने काफी पसंद किया। उन्होंने ज्वार (सोरघम) और बाजरा (पर्ल मिलेट) जैसे मोटे अनाजों या मिलेट से बने इन पौष्टिक तथा स्वादिष्ट पैटी के विभिन्न वैरिएंट की सराहना की। सफलता के इस सफर को आगे बढ़ाने के लिए, गोदरेज यमीज़ और आईआरसीटीसी के बीच साझेदारी के माध्यम से इन मिलेट पैटी को अब मुंबई-दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर राजधानी और अगस्त क्रांति ट्रेनों में परोसा जा रहा है।

गोदरेज यमीज़ ने एक नए तरह के स्नैक के विकल्प के रूप में यह मिलेट पैटी तैयार की है। इस स्नैक को बनाने में इंडिविजुअल क्विक फ्रीज़ (आईक्यएफ) तकनीक का इस्तेमाल किया गया है ताकि बिना किसी प्रिजरवेटिव के भी इसे ताजा रखा जा सके। भरपूर मात्रा में फाइबर और विटामिन से युक्‍त, स्वादिष्ट हर्ब्स तथा मसालों के मिश्रण वाले ये मिलेट पैटीज निश्चित तौर पर स्नैनिंग को स्वादिष्ट बनाने के साथ-साथ पोषण भी प्रदान करते हैं।

भारतीय रेलवे नेटवर्क में, राजधानी और अगस्त क्रांति ट्रेनों की अपनी एक अलग पहचान है, जिन्हें असाधारण सेवा और खानपान में बेहतरीन पेशकश के लिए जाना जाता है। गोदरेज़ यमीज़ और आईआरसीटीसी के बीच इस साझीदारी का उद्देश्य मोटे अनाजों की स्वीकार्यता को बढ़ाना, सबसे बड़े रेलवे नेटवर्क में भी इनके महत्व को प्रचारित करना है। यह महत्वपूर्ण साझीदारी पायलट प्रोग्राम के तौर पर राजधानी तथा अगस्त क्रांति ट्रेनों के मुंबई-दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर चल रहा है। यह पहल महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान तथा दिल्ली के बीच यात्रा करने वाले हजारों यात्रियों को सेवा प्रदान कर रही है।

अभय पारनेरकर, सीईओ, गोदरेज टायसन फूड्स लिमिटेड, का कहना है, “अभी तक मिलेट्स की स्वीकार्यता इस सोच की वजह से कम थी कि ये स्वादिष्ट नहीं होते और इन्हें बनाना आसान नहीं होता। इस सोच में बहुत ज्यादा बदलाव आया है और अब घर-घर में लोग मिलेट्स को खुले दिल से स्वीकार कर रहे हैं। हम पोषण से भरपूर इन मिलेट्स को आसान रेडी-टू-कुक फॉर्मेट में पेश करके उस स्वीकार्यता में अपना योगदान दे रहे हैं। हम इसे पसंदीदा ‘पैटी’ वेरिएंट में लॉन्‍च कर रहे हैं। गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी एक प्रिजरवेटिव-फ्री स्नैक है जोकि नवाचार, पोषण और सहूलियत को लेकर हमारी प्रतिबद्धता दर्शाता है।“

वह आगे कहते हैं, “राजधानी तथा अगस्त क्रांति ट्रेनों में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए इन स्वादिष्ट गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी को पेश करते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है। आईआरसीटीसी देशभर में ट्रेनों में खानपान की सुविधा उपलब्ध कराने वाली सबसे प्रतिष्ठित इकाई में से एक है। आईआरसीटीसी के साथ हमारी विशेष साझीदारी, रेलवे कैटरिंग में उनकी व्यापक पहुंच तथा विशेषज्ञता के साथ गोदरेज यमीज़ की पाक कला की उत्कृष्टता को जोड़ती है। इसके परिणामस्वरूप मिलेट्स के असाधारण स्वाद का अनुभव मिल रहा है।”

राहुल हिमालयन, ग्रुप जनरल मैनेजर, भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (पश्चिमी जोन) का कहना है, “इंटरनेशनल ईयर ऑफ मिलेट्स होने की वजह से, हम पोषण तथा स्वाद को मिलाते हुए लगातार अपने खाने के मेन्यू में मिलेट्स को शामिल करने की कोशिश कर रहे हैं। आईआरसीटीसी में हमने हमेशा यात्रियों को गुणवत्तापूर्ण तथा स्वादिष्ट भोजन परोसने का संकल्प लिया है। राजधानी तथा अगस्त क्रांति ट्रेनों में पायलट आधार पर गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी को शामिल करना, यात्रियों को मिलेट्स से बने रोचक तथा स्वादिष्ट भोजन के विकल्पों की पेशकश करने की आईआरसीटीसी की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। पायलट के तौर पर इस प्रोडक्ट को शामिल करने पर हमें खुशी का अनुभव हो रहा है। इससे आईआरसीटीसी के भारतीय रेलवे के व्यापक नेटवर्क में कैटरिंग संचालन के माध्यम से मिलेट्स को मुख्यधारा में शामिल करने की सोच को बढ़ावा मिलता है। अपने यात्रियों को परोसने से पहले हमने इस प्रोडक्ट को आजमाया और परखा है। हमें उम्मीद है कि गोदरेज मिलेट पैटी को लोग स्वीकार करेंगे। यह पौष्टिक तथा बनाने में आसान रेडी-टू-कुक स्नैक है।”

शेफ वरुण ईनामदार कहते हैं, “मिलेट्स को हमेशा से ही मिश्रित अनाज के रूप में देखा जाता रहा है, लेकिन अब यह बदल रहा है। भले ही मिलेट्स को नजरअंदाज किया गया हो, लेकिन ये पौष्टिक तथा विविधताओं से भरपूर अनाज होते हैं, जिन्हें सबको खाना चाहिए। मिलेट्स, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और जिंक के बहुत अच्छे स्रोत होते हैं। पहले लोगों को मिलेट्स बनाना ज्यादा मुश्किल काम लगता होगा, लेकिन अब इस सुपर-अनाज को खाना और पकाना बहुत आसान हो गया है। मिलेट से बने दलिया से लेकर, मिलेट सलाद और बेक की गई चीजों तक, अब मिलेट का लुत्फ उठाने के कई तरीके हैं, जो स्वादिष्ट और पोषण से भरपूर हैं। लोग गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी के साथ पैटीज के रूप में इसका आनंद ले सकते हैं। यह मिलेट लेने के आपके रोजाना डोज का बहुत ही अच्छा तरीका है। सबसे अच्छी बात है कि यह आसान, सस्ता तथा स्टोर करने में सुविधाजनक भी है।”

आज, गोदरेज यमीज़ के पोर्टफोलियो में 50 से भी ज्यादा वेज़ तथा नॉन-वेज़ प्रोडक्ट्स हैं। गोदरेज यमीज़ मिलेट पैटी, सुपरमार्केट और प्रमुख ई-कॉमर्स रिटेल आउटलेट पर उपलब्ध हैं।

भारत में यह 370 ग्राम के पैक में 180 रुपए में उपलब्ध है। यमीज़ मिलेट पैटी, बेहतरीन क्वालिटी की सामग्रियों से बनी है और यह रेडी टु कुक है। इसे डीप फ्राई, एयर-फ्राई या फिर शैलो फ्राई किया जा सकता है और गरमागरम परोसा जा सकता है।

Loading...

Check Also

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण एवं भारतीय सेना द्वारा आपदा प्रबंधन संगोष्ठी एवं टेबल टॉप अभ्यास का आयोजन

मध्य कमान, लखनऊ सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ : राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने ...