Breaking News

कर्नाटक में कांग्रेस मप्र और राजस्थान वाली कहानी पुनः दोहराने जा रही है, सिद्धारमैया का नाम सीएम के लिए तय ….

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : कर्नाटक में सरकार बनने का फॉर्मूला लगभग तय हो गया है। कुरुबा कम्युनिटी से आने वाले सिद्धारमैया को CM बनाया जा सकता है। उनके अंडर में तीन डिप्टी CM हो सकते हैं। ये तीनों अलग-अलग कम्युनिटी के होंगे। इनमें वोक्कालिगा कम्युनिटी से आने वाले डीके शिवकुमार, लिंगायत कम्युनिटी से आने वाले एमबी पाटिल और नायक/वाल्मिकी समुदाय के सतीश जारकीहोली शामिल हैं।

कर्नाटक में कुरुबा आबादी 7%, लिंगायत 16%, वोक्कालिगा 11%, SC/ST करीब 27% हैं, यानी कांग्रेस इस फैसले से 61% आबादी को साधना चाहती है।

हालांकि कांग्रेस संगठन से जुड़े लोगों ने डीके शिवकुमार की ऑर्गेनाइजेशनल स्किल को देखते हुए उन्हें CM बनाने की वकालत की है। ये तर्क दिया जा रहा है कि सिद्धारमैया विपक्ष के नेता और CM दोनों ही रह चुके हैं। उनकी उम्र भी ज्यादा है, इसलिए डीके शिवकुमार को CM बनाया जाना चाहिए।

सूत्रों के मुताबिक, रात तक CM का नाम तय होने की उम्मीद है। उन्होंने ये भी कहा कि पब्लिक ओपिनियन डीके शिवकुमार के पक्ष में है, ज्यादातर विधायकों का सपोर्ट भी शिवकुमार के साथ है।

कांग्रेस हाईकमान इस विकल्प के बारे में भी सोच रहा है कि डीके शिवकुमार को 2024 के लोकसभा चुनाव तक प्रदेश अध्यक्ष बनाकर रखा जाए। ताकि जिस तरह उन्होंने विधानसभा चुनाव को मैनेज किया है, उसी तरह लोकसभा चुनाव में भी पार्टी बड़ी जीत हासिल कर सके। हालांकि, उन्हें डिप्टी CM बनाए जाने की संभावना ज्यादा है।

कांग्रेस मप्र और राजस्थान वाली कहानी पुनः दोहराने जा रही है, जिससे पार्टी में कलह बनी रहे ! कांग्रेस में दगे हुए कारतूस ज्यादा राय जितने के बाद देते हैं जिससे पार्टी को सदैव नुकसान होता है !

Loading...

Check Also

पूर्वोत्तर रेलवे के उप मुख्य परिचालन प्रबंधक सुमित कुमार ने क्षेत्रीय रेल प्रशिक्षण संस्थान का निरिक्षण किया

पूर्वोत्तर रेलवे का क्षेत्रीय रेल प्रशिक्षण संस्थान, गाजीपुर सूर्योदय भारत समाचार सेवा, वाराणसी / गाज़ीपुर ...