Breaking News

18-19 आयु के 15.57 लाख नए मतदातों को मिला सरकार चुनने का अधिकार: मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश

अनुपूरक न्यूज एजेंसी, लखनऊ। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित कार्यकम के अनुसार अर्हता दिनाँक 01.01.2024 के आधार पर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यकम के अन्तर्गत प्रदेश के कुल 403 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में दिनाँक 27.10.2023 से 09.12.2023 तक ऑनलाइन एवं ऑफलाइन माध्यम से दावे और आपत्तियां प्राप्त की गयीं।

प्राप्त दावे और आपत्तियों के निस्तारण के उपरान्त मतदाता सूची का अन्तिम प्रकाशन आज दिनाँक 23.01.2024 को प्रदेश के समस्त पदाभिहित / मतदेय स्थलों पर किया जा रहा है।

इस पूरे अभियान के तहत मान्यता प्राप्त सभी राजनीतिक दल हमारे सहभागी रहे हैं। मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की प्रदेश स्तर पर बैठक दिनाँक 27.09.2023, 26.10.2023 एवं 31.10.2023 को आयोजित की गयी तथा सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों से अपने बूथ लेवल एजेण्ट नियुक्त किए जाने का अनुरोध भी किया गया। परिवर्धित, अपमार्जित एवं संशोधित किए गए समस्त नामों की सूची सभी स्तरों पर सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ साझा की गयी। उक्त के अतिरिक्त ऑफलाइन एवं ऑनलाइन माध्यमों से अधिक से अधिक अर्ह मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में शामिल कराने तथा अनर्ह मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से विलोपित कराए जाने से सम्बन्धित फार्म सम्बन्धित मतदाताओं से भरवाने हेतु जागरूक किया गया।

 मतदाता सूची में विद्यमान प्रविष्टियों में संशोधन, डुप्लीकेट मतदाता फोटो पहचान पत्र हेतु आवेदन, शिफ्टेड मतदाताओं के लिए आवेदन और दिव्यांग मतदाताओं के चिन्हांकन हेतु निर्धारित फार्म-8 की व्यवस्था दी गयी है तथा इस संबंध में प्रचार-प्रसार किया गया। इस बात पर विशेष ध्यान आकर्षित किया गया कि किसी वर्तमान मतदाता के एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानान्तरण की दशा में फार्म-8 का उपयोग किया जाए न कि फार्म-6 का।

इस पुनरीक्षण अवधि में फोटो सिमिलर इन्ट्रीज, डेमोग्राफिकल सिमिलर इन्ट्रीज एवं नामावली में विद्यमान त्रुटियों को दूर करने सम्बन्धी कार्य का भी सफलतापूर्वक निष्पादन किया गया।

 निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु प्रदेश के सभी 18 मण्डलायुक्तों को नामावली प्रेक्षक (रोल प्रेक्षक) नियुक्त किया गया। इन प्रेक्षकों द्वारा भी अपने मण्डलों में पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा की गयी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अन्य अधिकारियों द्वारा भी विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2024 से सम्बन्धित कार्यों का निरन्तर भ्रमण करते हुए सतत पर्यवेक्षण एवं समीक्षा की गयी।

विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान समय-समय पर सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेसिंग भी की गयी तथा इस कार्यालय के अधिकारियों द्वारा जनपदों में पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा हेतु भ्रमण भी किया गया।

 जनपद मे सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय एवं राज्यीय राजनैतिक दलों को आलेख्य मतदाता सूची की प्रतियाँ उपलब्ध करायी गयी तथा अन्तिम प्रकाशित मतदाता सूची की प्रतियाँ उपलब्ध करायी जा रही हैं।

 इस विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यकम के अन्तर्गत आयोग के निर्देशानुसार दिनाँक 04.11.2023, 05.11.2023, 25.11.2023, 26.11.2023, 02.12.2023 तथा 03.12.2023 को दावे और आपत्तियाँ प्राप्त करने हेतु विशेष अभियान की तिथियाँ निर्धारित थी, जिसका सुनियोजित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता (SVEEP) के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया।

प्रत्येक शैक्षणिक संस्थाओं में युवा मतदाताओं के पंजीकरण हेतु डेडीकेटड सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों के निर्देशन में अभियान चलाया गया।

 पूर्व से पंजीकृत मतदाताओं द्वारा अपना नाम चेक करने और मतदाता सूची में अपने से संबंधित विवरण की पुष्टि करने के लिए “# मैं हूँ ना” अभियान चलाया गया।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश की वेबसाइट, वोटर पोर्टल तथा वोटर हेल्प लाइन एप के क्यूआर कोड का व्यापक प्रचार-प्रसार डिजीटल / सोशल मीडिया के माध्यम से कराया गया।

 स्कूल/कॉलेजों तथा आश्रम स्कूल / एकलव्य आवासीय मॉडल स्कूल के छात्र/छात्राओं के मध्य माता / पिता से मतदाता सूची में अपना नाम चेक करने एवं अर्ह व्यक्तियों के नाम सम्मिलित किए जाने के उद्देश्य से सभी शैक्षिक विभागों के माध्यम से संकल्प पत्र वितरित कराए गए।

अर्ह एवं छूटे हुए दिव्यांग, बेघर, पी०वी०टी०जी० (Particularly Vulnerable Tribal Groups), सेक्स वर्कर्स तथा महिलाओं के नाम मतदाता सूची में सम्मिलित किए जाने हेतु इस अभियान को समावेशी अभियान के रूप में मनाया गया।

मतदेय स्थलों के सम्भाजन के उपरान्त वर्तमान समय मे प्रदेश मे कुल 1,62,012 मतदेय स्थल हैं।

आलेख्य प्रकाशन के समय प्रदेश में मतदाताओं की कुल संख्या 15,03,39,879 थी, जो दिनाँक 23.01.2024 को अन्तिम रूप से प्रकाशित नामावली में मतदाताओं की संख्या 15,29,24,062 हो गयी है अर्थात् कुल 57,03,304 मतदाता सम्मिलित हुए और कुल 31,19,121 मतदाता विलोपित हुए। इस प्रकार मतदाता सूची मे शुद्ध कुल वृद्धि 25,84,183 हुई।

इस पुनरीक्षण के दौरान कुल 57,03,304 मतदाताओं के नाम जोड़े गए हैं। इसमें 25,77,967 पुरुष, 31,24,901 महिला एवं 436 तृतीय लिंग के मतदाता हैं।

 मतदाता सूची में आलेख्य प्रकाशन के समय जेण्डर रेशियो 867 था, जो अंतिम प्रकाशित नामावली में 878 हो गया अर्थात् जेण्डर रेशियो में 11 अंकों की वृद्धि हुई है।

18-19 आयु वर्ग के मतदाताओं के कुल 15.57 लाख नाम जोड़े गए जो कुल जोड़े गए नामों का 27.29% है। निर्वाचक नामावली में वर्तमान में 18-19 आयु वर्ग के कुल मतदाताओं की संख्या 20.41 लाख है।

 मतदाता सूची की शुद्धता सुनिश्चित करने के संदर्भ में इस पुनरीक्षण अवधि में कुल 31.19 लाख मतदाताओं के नाम विभिन्न श्रेणियों के विलोपित किये गये हैं। जिसमें से आयोग के निर्देशन में विलोपन संबंधी कार्यवाहियों के परिणामस्वरूप 10.50 लाख मृतक श्रेणी, 14.14 लाख शिफ्टेड श्रेणी तथा 6.21 लाख रिपीटेड श्रेणी में विलोपित किए गए।

इसी प्रकार मतदाता सूची में विद्यमान विभिन्न श्रेणी की त्रुटियों में 7.19 लाख संशोधन संबंधी कार्यवाही की गई।

उक्त के अतिरिक्त पूर्व में चिन्हित मतदाताओं को जोड़ते हुए वर्तमान में ईआरओ नेट पर कुल 10.50 लाख दिव्यांग मतदाता चिन्हित हैं।

अंतिम प्रकाशित मतदाता सूची समस्त मतदेय स्थलों पर एक सप्ताह तक जन-सामान्य के लिए प्रदर्शित की जाएगी। उक्त के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी/ जिला निर्वाचन अधिकारी की वेबसाइट पर भी मतदाता सूची उपलब्ध होगी जिसके माध्यम से मतदाता अपना नाम देख सकते हैं तथा टोल फ्री नं0 1950 पर फोन करके तथा वोटर हेल्प लाइन एप (VHA) के माध्यम से भी अपने नाम की जानकारी कर सकते हैं। साथ ही अपने बी०एल०ओ० से सम्पर्क करके भी अपना नाम देख सकते हैं। इस परिप्रेक्ष्य में नव पंजीकृत एवं पूर्व से पंजीकृत सभी मतदाताओं से अपील की जाती है कि वे अद्यतन मतदाता सूची में अपना नाम अवश्य चेक कर लें।

इस बात के पूर्ण प्रयास किये गये हैं कि कोई भी अर्ह मतदाता छूटने न पाये तथापि यदि किसी मतदाता का नाम किसी कारण से अद्यतन प्रकाशित मतदाता सूची में नही है तो वह अपना नाम ऑनलाइन / ऑफलाइन माध्यम यथा बूथ लेवल अधिकारी, निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के कार्यालय से, मतदाता पंजीकरण केन्द्र एवं https://voterportal.eci.gov.in या https://voters.eci.gov.in या voter helpline app इत्यादि से जुड़वा सकते हैं तथा अपना नाम चेक भी कर सकते हैं। मैं मीडिया के माध्यम से लोगों से पुनः अपील करना चाहता हूँ कि आज प्रकाशित मतदाता सूची में अपना नाम अवश्य जाँच लें और तद्नुसार आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कर लें।

 उक्त के अतिरिक्त दिनाँक 01 अप्रैल, 01 जुलाई व 01 अक्टूबर को अर्ह होने वाले मतदाता अपना नाम मतदाता सूची में शामिल कराने हेतु फार्म-6 भर सकते हैं।

हम सभी राजनैतिक दलों एवं उनके द्वारा नियुक्त बूथ लेवल एजेन्ट्स का धन्यवाद देते हैं, जिनके अथक सहयोग से निर्वाचक नामावली को इस रूप मे आज प्रकाशित किया जा रहा है।

 उक्त के अतिरिक्त प्रदेश के समस्त 1,62,012 बूथ लेवल अधिकारियों, सभी पदाभिहित अधिकारियों, सुपरवाइजर्स, सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों, निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों तथा जिला निर्वाचन अधिकारियों सहित पूरी टीम को धन्यवाद देते हैं, जिनके अथक परिश्रम से मतदाता सूची शुद्ध एवं समावेशी प्रकाशित की गयी।

Loading...

Check Also

राज्य में ध्वस्त विधि-व्यवस्था के खिलाफ 20 जुलाई को जिला मुख्यालयों पर प्रतिरोध मार्च: महागठबंधन

अनुपूरक न्यूज एजेंसी, पटना । बुधवार को राज्य में बढ़ते अपराध की घटनाओं को लेकर ...