Breaking News

ममता बनर्जी 9 अगस्त को करेंगी ‘बीजेपी भारत छोड़ो’ आंदोलन का ऐलान

नई दिल्ली: बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि देश में आपातकाल से भी ज्यादा बुरे हाल है. उन्होंने एक रैली में केंद्र सरकार और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. ममता ने कहा कि आज देश में अमत्य सेन जैसे लोग भी सुरक्षित नहीं है. हम 9 अगस्त से 30 अगस्त तक ‘बीजेपी भारत छोड़ो’ आंदोलन की शुरुआत करने जा रहे हैं.

ममता ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर लोग गो राक्षस बन गए हैं. अब वो फैसला कर रहे हैं कि क्या खाना चाहिए और क्या पहनना चाहिए. बंगाल की सीएम ने कहा कि कुछ बाहरी तत्व आकर यहां पर गड़बड़ी कर रहे हैं हमें राज्य में सांप्रदायिक हिंसा नहीं होने देनी है. सारदा घोटाला मामले का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि बीजेपी उनकी पार्टी को तोड़ना चाहती है. वह हमारे नेताओं को धमका रहे हैं कि या तो उनके साथ आ जाओ याफिर सारदा-नारदा का सामना करो.

‘टीएमसी के पहरेदार हैं’
हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा की ओर इशारा करते हुए ममता ने कहा कि टीएमसी के ‘पहरेदार’ किसी भी तरह की अफवाह के खिलाफ तैयार हैं जो दंगा फैलाने की लिए इस्तेमाल की जाती है. उन्होंने कहा कि जिनको लगता है कि 2019 में का चुनाव उनकी जेब में वह जान लें कि उनकी पॉकेट में छेद हो चुका है. बीजेपी 2019 के चुनाव में 30 फीसदी भी वोट नहीं पाएंगे.

‘बीजेपी के खिलाफ खड़े हर शख्स के साथ हैं’
ममता ने कहा कि वह सोनिया, नवीन, अरविंद केजरीवाल, लालू, नीतीश, उमर अब्दुल्ला या फिर हर ऐसा शख्स जो बीजेपी के खिलाफ है वह उसके साथ हैं. 2019 में बीजेपी को हम कुचल देंगे.विदेश नीति पर भी उठाए सवाल
केंद्र सरकार की विदेश नीति पर सवाल उठाते हुए कहा कि आज हमारे रिश्ते नेपाल, बांग्लादेश और भूटान से रिश्ते खराब हैं. तृणमूल देश की रक्षा करेगी. उन्होंने कहा कि कश्मीर में तो सिर्फ एक ही सीमा है. बंगाल तो तीन देशों की सीमाओं से सटा है. अगर बंगाल कोई समस्या होती है तो देश के लिए खतरा खड़ा हो जाएगा.

हमने सीपीएम से बंगाल की रक्षा की
उन्होंने टीएमसी के समर्थकों का आह्वान करते हुए कि आप लोगों ने सीपीएम की रक्षा बंगाल से की है तो क्या दंगाईयों से नहीं करेंगे.

Loading...

Check Also

उत्तर प्रदेश अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों को लुभाने में आगे, 10 लाख करोड़ से ज्यादा के निवेश का लक्ष्य

अनुपूरक न्यूज एजेंसी, लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल में दिल्ली में ग्लोबल समिट के ...