Breaking News

परिवारवाद का आरोप झेल रहे बॉलीवुड के छोटे नवाब

मुंबई। परिवारवाद का आरोप झेल रहे बॉलीवुड के छोटे नवाब सैफ अली खान ने अब खुला खत लिखकर दुनिया को जवाब दिया है। हाल ही में आईफा अवॉर्ड शो में ‘नेपोटिज्म रॉक्स’ के नारे लगने के बाद बवाल खड़ा हो गया है। दरअसल, सैफ, वरुण और करण जौहर ने स्टेज पर कंगना रनौत पर जोक करते हुए यह नारा लगाया था। हालांकि, जब इसकी आलोचना हुई तो सभी ने माफी भी मांगी।

सैफ ने लिखा खुला खत

सैफ अली खान ने परिवारवाद पर अपना पक्ष रखते हुए ओपन लेटर लिखा है। सैफ अली खान ने लिखा कि स्टेज पर कहा गया ‘नेपोटिज्म रॉक्स’ महज एक मजाक भर था। इसमें ऐसा कुछ भी नहीं था, जिस पर मैं यकीन करता हूं। यह मजाक वरुण, करण और मेरे द्वारा किया गया था। इसे इतना बढ़ा-चढ़ाकर देखने की जरूरत नहीं थी।

सैफ ने कहा, ‘मुझे एहसास हुआ कि यह कंगना को ठेस पहुंचा सकता है। इसके लिए मैंने कंगना से व्यक्तिगत रूप से माफी मांगी। मुझे लगता है कि इस मुद्दे को यहीं खत्म कर दिया जाना चाहिए। आजकल लोग ट्विटर या सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर माफी मांगते हैं लेकिन वे संबंधित इनसान से माफी मांगने के बजाय दुनिया को दिखाने के लिए ऐसा करते हैं क्योंकि उन्हें पब्लिक का सपोर्ट चाहिए।ट

सैफ ने मीडिया की आलोचना

परिवारवाद के मुद्दे पर सैफ ने मीडिया की आलोचना की और कहा कि ‘भाई-भतीजावाद’ के लिए तो असल मायने में मीडिया जिम्मेदार है। उन्होंने लिखा, ‘यदि आप परिवारवाद को बढ़ाने के असली जिम्मेदारों की बात करें तो मैं मीडिया का नाम लूंगा। आप खुद देखिए कि वे तैमूर को, शाहिद की बेटी मीशा या शाहरुख के बेटे अबराम को कैसे ट्रीट करते हैं।

वे उनकी तस्वीरें लेते हैं और उन्हें अधिक महत्व देते हैं ताकि वे आगे चलकर खुद-ब-खुद बड़ी चीज बन जाएं। बेचारे बच्चों के पास कोई विकल्प भी नहीं होता। कम उम्र में उन्हें सेलेब्रिटी होने जैसी परेशानी झेलनी होती है। वास्तव में वे बच्चे इसके लायक भी नहीं हैं।

Loading...

Check Also

टीवी अभिनेत्री वैशाली ठक्कर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, इन्दौर : ‘ससुराल सिमर का’ और ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ ...