Breaking News

करप्शन पर जांच रिपोर्ट के पहले नवाज की बेटी ने कहा

इस्लामाबाद .पाकिस्तान की सियासत में बवाल मचाने वाले पनामागेट स्कैंडल की जांच रिपोर्ट आने के एक दिन पहले नवाज शरीफ की बेटी मरियम ने अपोजिशन को चैलेंज दिया। पनामागेट मामले की जांच कर रही ज्वाइंट इन्वेस्टिगेशन (JIT) टीम की रिपोर्ट सोमवार को आनी है। अपोजिशन नवाज शरीफ का इस्तीफा मांग रहा है। इसके पहले मरियम ने रविवार को ट्वीट कर कहा- वो मर्द नहीं जो डर जाए। बता दें कि पनामागेट मामले में खुलासा हुआ था कि नवाज फैमिली की दूसरे देशों में कई कंपनिया हैं। भारत के कई लोगों के नाम भी पनामा पेपर्स लीक में सामने आए थे। नवाज फैमिली से हो चुकी है पूछताछ…
 – नवाज शरीफ और उनकी फैमिली पर आरोप हैं कि उन्होंने दूसरे देशों में कई कंपनियां बनाईं। इन कंपनियों के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग की गई। 
– ये विवाद पिछले साल शुरू हुआ था। अपोजिशन के दबाव के बाद ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा। सुप्रीम कोर्ट ने अपोजिशन की अपील के बाद मामले की जांच के लिए एक ज्वाइंट इन्वेस्टिगेशन टीम बनाई। इस टीम की रिपोर्ट 10 जुलाई यानी सोमवार को आने वाली है। 
– रिपोर्ट आने के पहले ही इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ नवाज शरीफ का इस्तीफा मांग रही है। इमरान ने रविवार को एक बयान में कहा था कि नवाज और उनकी फैमिली का अगला ठिकाना लाहौर की जेल होगा।
 
मरियम का चैलेंज
– अपोजिशन की तरफ से जारी बयानबाजी के बीच नवाज की बेटी मरियम ने दो ट्वीट किए। JIT नवाज, उनके बेटे हुसैन और बेटी मरियम से पूछताछ कर चुकी है। 
– ट्वीट में मरियम ने कहा- वो मर्द नहीं जो डर जाए। इसके बाद एक और ट्वीट किया। कहा- अगर आप सियासी जंग की बात करे तो पीएमएलएन (नवाज की पार्टी) से बेहतर इन हालातों में और कोई नहीं लड़ सकता।
 
दबाव में शरीफ फैमिली
– पाकिस्तान के टीवी चैनल एआरवाय की एक रिपोर्ट में कहा गया- JIT की रिपोर्ट में नवाज और उनकी फैमिली पर कुछ तो आरोप लगाए जा सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो पाकिस्तान की सियासत में तूफान उठेगा। इमरान खान या जरदारी की पार्टी को इसका फायदा होगा लेकिन मुल्क के तौर पर पाकिस्तान को नुकसान हो सकता है। 
– इमरान ने तो पिछले दिनों ये तक कह दिया था कि JIT की रिपोर्ट के बाद नवाज फैमिली विदेश भाग सकती है। 
– दूसरी ओर, नवाज की पार्टी ने कहा था कि अगर कतर के शहजादे के बयान इस रिपोर्ट में शामिल नहीं किए जाते तो वो इस रिपोर्ट को नहीं मानेगी।
 
क्या है पनामा पेपर्स लीक?
– पिछले साल ब्रिटेन से लीक हुए टैक्स डॉक्युमेंट्स बताते हैं कि कैसे दुनियाभर के 140 नेताओं और सैकड़ों सेलिब्रिटीज ने टैक्स हैवन कंट्रीज में पैसा इन्वेस्ट किया। इनमें भारत के भी कई लोगों के नाम सामने आए। 
– शैडो कंपनियां, ट्रस्ट और कॉरपोरेशन बनाए गए। इनके जरिए टैक्स बचाया गया।
– लीक हुए डॉक्युमेंट्स खासतौर पर पनामा, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड और बहामास में हुए इन्वेस्टमेंट के बारे में बताते हैं।
– सवालों के घेरे में आए लोगों ने इन देशों में इन्वेस्टमेंट इसलिए किया, क्योंकि यहां टैक्स रूल्स काफी आसान हैं और क्लाइंट की आइडेंडिटी का खुलासा नहीं किया जाता। 
– पनामा में ऐसी 3.50 लाख से ज्यादा सीक्रेट इंटरनेशनल बिजनेस कंपनियां हैं।
 
  
Loading...

Check Also

कौन बनेगा नेपाल का प्रधानमंत्री ? केपी ओली, शेर बहादुर देउबा, पुष्प कमल दहल, गगन थापा, रामचंद्र पौडयाल या प्रकाश मान सिंह ? जोड़तोड़ जारी

संसद, काठमांडू काठमांडू : नेपाल में संसदीय चुनाव तो हो गये लेकिन प्रधानमंत्री कौन बनेगा ...