Breaking News

भिलाई रैली में प्रियंका गांधी का बीजेपी पर वार, बोलीं – धर्म और जाति के मुद्दों से जनता को बरगला रही है बीजेपी

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, भिलाई : केंद्र पर तीखा हमला बोलते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि देश की समस्याओं से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए धर्म और जाति के मुद्दे उछाले जा रहे हैं। गुरुवार को चुनावी राज्य छत्तीसगढ़ में ‘महिला समृद्धि सम्मेलन’ को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि आज राजनीतिक उद्देश्यों के लिए लोगों की भावनाओं का इस्तेमाल किया जा रहा है ताकि धर्म और जाति के मुद्दों को सामने लाकर उनका ध्यान भटकाया जा सके। यह लोगों को अपनी शिकायतें न उठाने देने की एक राजनीतिक साजिश है। कांग्रेस महासचिव गुरुवार को रायपुर पहुंचीं क्योंकि उनकी पार्टी ने राज्य चुनावों से पहले अपनी चुनावी तैयारी तेज कर दी है। उनका स्वागत छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके डिप्टी टीएस सिंह देव ने किया।

भिलाई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, “मैंने सुना कि प्रधानमंत्री मोदी धान खरीदी का श्रेय लेते हैं। मैं पूछती हूं कि अगर मोदी सरकार ही छत्तीसगढ़ का धान खरीद रही है तो उत्तर प्रदेश के किसान धान 1200-1400 रुपए में क्यों बेच रहे हैं? वहां तो उनकी ही सरकार है। आवारा पशु से लोग परेशान हैं। अपनी खेती की रखवाली के लिए लोगों को पूरी रात खेत में बैठना पड़ रहा है। हमने यह समस्या छत्तीसगढ़ में हल की है।” उन्होंने कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू जी ने 1955 में भिलाई में स्टील प्लांट की नींव डाली थी। या कहें तो आधुनिक भारत की नींव यहीं पड़ी थी। भिलाई, देश की उद्यमशीलता और आत्मनिर्भरता के सपने का प्रतीक है। यहां खड़े होकर हर देशवासी को गर्व महसूस होना चाहिए।

 कांग्रेस नेता ने कहा कि यहां मंच पर आने से पहले मैंने कुछ महिलाओं से बात की, उनको आत्मनिर्भर देखकर मुझे काफी गर्व हुआ। वह साहस और खुशी से मुस्कुरा रही थीं कि सरकार ने उनके लिए कुछ ऐसा किया, जिसकी वजह से वह अपने पैरों पर खड़ी हैं। कई महिलाओं ने कहा कि वह पहली बार रोजगार कर रही हैं। छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों के एक हाथ में संस्कृति का कलश है, तो दूसरे हाथ में विज्ञान और तकनीक का ब्रह्मास्त्र भी है। सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने G20 का आयोजन किया, यह अच्छी बात है…लेकिन वे आपको इसका जवाब नहीं दे सकते कि बेरोजगारी, महंगाई क्यों है या किसानों को उनकी फसल के लिए जरूरी रकम क्यों नहीं मिल रही…? छत्तीसगढ़ सरकार राजनीति के पुराने तरीके का पालन कर रही है, लोगों के लिए काम कर रही है, लेकिन केंद्र सरकार गरीबों का अधिकार छीन रही है और अपने अमीर दोस्तों को दे रही है।

Loading...

Check Also

शिक्षक तो पढ़ा रहे हैं, लेकिन क्या बच्चे सीख भी रहे हैं : अतुल मलिकराम

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : शिक्षा का मतलब कभी-भी किसी खाली पात्र में जल भरने ...