Breaking News

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ग्रामोदय विश्वविद्यालय में विशाल योग कार्यक्रम संपन्न

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ / चित्रकूट : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आज महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय में विशाल योग कार्यक्रम एक नवाचार के रूप में संपन्न हुआ। इस मौके पर संत,महात्माओं,महंतों, चित्रकूट क्षेत्र में कार्यरत सरकारी, अर्ध सरकारी, गैर सरकारी,विकास, शैक्षणिक संस्थाओं के पदाधिकारी ,कार्यकर्ताओं, प्रशासन और चित्रकूट अंचल के निवासियों ने मिलकर सामूहिक योगाभ्यास का अभिनव प्रदर्शन किया।

चित्रकूट की संस्थाओं के साथ-साथ संत, महात्माओं, महंतों ने किया योगाभ्यास

योग के इस विशाल कार्यक्रम में दो हजार से अधिक लोगों ने सहभागिता की। दीनदयाल सोच संस्थान के संगठन सचिव एवं महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय की प्रबंध मंडल के सदस्य अभय महाजन इस विशेष आयोजन के प्रमुख सूत्रधार थे। ग्रामोदय विश्वविद्यालय के कुलगुरु प्रो भारत मिश्रा की संस्थागत अगुवाई में संपन्न इस योग कार्यक्रम में पूरे उत्साह एवं योग अनुशासन के साथ सहभागियों में संधि योग, ॐ उच्चारण, आसन , सूर्य नमस्कार प्राणायाम, संकल्प आदि का अभ्यास किया। कार्यक्रम का शुभारंभ खेल परिसर में बनाए गए योगासन मंच में भारत माता के तैल चित्र पर संतोषी अखाड़ा के महंत राम जी दास, दिगंबर अखाड़ा के महंत दिव्य जीवनदास, जानकी महल के महंत सीता शरण दास, गायत्री शक्तिपीठ के प्रमुख डॉ रामनारायण शास्त्री, दीनदयाल शोध संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन, सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट के प्रमुख ट्रस्टी डॉ वी के जैन, सीएमओ विशाल सिंह एवं कुलसचिव नीरजा नामदेव द्वारा किए गए माल्यार्पण और दीप प्रज्वलन से हुआ।

बच्चों, युवाओं, बुजुर्गों सहित बड़ी संख्या में मातृशक्ति भी योग में बनी सहभागी

तत्पश्चात सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट ट्रस्ट के योग शिक्षक डॉ तुषार कांत शास्त्री ने योग , आसन,प्राणायाम कराया। दीन दयाल शोध संस्थान के दशरथ प्रजापति ने सूर्य नमस्कार कराया। संपन्न गतिविधियों की श्रृंखला में संधि योग,संधि चालान क्रिया, ताड़ासन वृक्षासन, त्रिकोणासन,भद्रासन, भुजंगासन सेतुबंध आसन, पवनमुक्तासन, शव आसन, कराया गया। सूर्य नमस्कार अभ्यास के बाद प्राणायाम, अनुलोम विलोम, कपाल भाती, भ्रामरी प्राणायाम का अभ्यास कराया गया। अभ्यास के दौरान मुख्य मंच से निर्देशन कर रहे योग प्रशिक्षकों के अनुशासन एवं मार्गदर्शन संबोधन के दौरान योगाभ्यासियों को आसन,प्राणायाम , सूर्य नमस्कार से होने वाले लाभों एवं सावधानियां का वर्णन भी कर रहे थे। स्वयं के लिए योग, समाज के लिए योग के सामूहिक संकल्प का वाचन भी किया गया।

सामूहिक योगाभ्यास कार्यक्रम के सूत्रधार दीनदयाल शोध संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन ने पूरे विश्व में मनाई जा रहे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के महत्व को बताते हुए चित्रकूट में आयोजित होने वाले सामूहिक योग के इस विशेष कार्यक्रम के औचित्य पर प्रकाश डाला और कहा कि हार्दिक प्रसन्नता का विषय है कि भारत रत्न राष्ट्र ऋषि नाना जी के संकल्प को यथार्थ का धरातल प्रदान करने में चित्रकूट की सभी संस्थाओं और लोग मिलकर जुटे हुए हैं। उन्होंने चित्रकूट में मिल जुल कर काम करने की संस्कृति को विकसित करने के प्रयासों के रूप में 21 जून को आयोजित अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम एवं रामनवमी को चित्रकूट गौरव कार्यक्रम को एक सफल कदम बताया। कार्यक्रम के मध्य ग्राम दर्शन पर बनाए गए सेल्फी पॉइंट में लोगों ने जाकर पूरे उत्साह के साथ अपनी फोटो खिंचवाई।
इस अवसर पर सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट, महिला समिति की अध्यक्षा श्रीमती उषा जैन, राजेंद्र मिश्रा, वयोवृद्ध राम नारायण सोनी, पी एल अवस्थी, प्रबल श्रीवास्तव, डॉ अश्विनी अवस्थी आदि गणमान्य लोगों सहित ग्रामोदय विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता, विभागाध्यक्ष, अनुभागाध्यक्ष, निदेशक, शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी, शोधार्थी और छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

Loading...

Check Also

आगरा के विकास एवं धार्मिक पर्यटन के लिए मंत्री योगेन्द्र उपाध्याय ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से की मुलाकात

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ / नई दिल्ली / आगरा : उत्तर प्रदेश के उच्च ...