Breaking News

इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित कार्यक्रम में हुई पारिवारिक व्यवसायों पर चर्चा

सूर्योदय बी हैरत समाचार सेवा, अहमदाबाद : अहमदाबाद में व्यापार के नए रास्ते तलाशने और देशों के बीच व्यापार संबंध मजबूत करने के लिए, “पारिवारिक व्यवसाय और बदलाव” नामक एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वृद्धि और भारत को दुनिया की पाँचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए पारिवारिक व्यवसाय के योगदान पर व्यावहारिक चर्चाओं और नेटवर्किंग के अवसर  के उद्देश्य से  इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स (आईसीसी) द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम एक प्रमुख प्लेटफार्म साबित हुआ।

भारत अपनी समृद्ध संस्कृति और परंपराओं के साथ पारिवारिक व्यवसायों को बढ़ाने के लिए एक अनोखा वातावरण देने में सबसे आगे रहा है। ये कंपनियां न केवल आर्थिक विकास का स्तंभ रही हैं बल्कि मूल्यों को बनाए रखने, विरासत को संजोने और इनोवेशन को बढ़ावा देने में भी समान रूप से महत्वपूर्ण बनी हुई हैं। वर्तमान में, भारत में लगभग 85% पंजीकृत उद्यम, पारिवारिक व्यवसाय हैं। देश की आर्थिक प्रगति पर उनका काफी प्रभाव है, क्योंकि वे राष्ट्रीय जीडीपी में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं, साथ ही रोजगार पैदा करने और राष्ट्र निर्माण में अहम भूमिका निभाते हैं।
इस कार्यक्रम में बिजनेस जगत की प्रमुख हस्तियां शामिल रहीं, जिनमें खैतान एंड कंपनी, पीसीपी की पार्टनर और हेड सुश्री बिजल अजिंक्य और खैतान एंड कंपनी के पार्टनर श्री सिद्धार्थ शाह शामिल थे। पैनल चर्चा का नेतृत्व हेस्टर बायोसाइंसेज के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर श्री राजीव गांधी, सुपरनोवा इंजीनियर्स लिमिटेड के चेयरमैन श्री समीर मिस्त्री, मेघमानी ऑर्गेनिक्स के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष सोपारकर, रिद्धि सिद्धि ग्लूको बायोल्स के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर श्री गणपतराज चौधरी और ऑनलाइन पीएसबी लोन के एमडी और सीईओ श्री जिनंद शाह जैसे सम्मानित हस्तियों द्वारा किया गया।
इस कार्यक्रम में इंडियन चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स के अध्यक्ष श्री अमेया प्रभु और गुजरात चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (जीसीसीआई) के अध्यक्ष श्री अजय एच. पटेल भी उपस्थित थे। यह कार्यक्रम उन व्यवसायों के लिए महत्वपूर्ण साबित हुआ जो आज के तेजी से बढ़ते आर्थिक परिदृश्य में अपने कारोबार को बढ़ाना चाहते हैं और पारिवारिक व्यवसायों तथा बदलाव की जटिलताओं को समझना चाहते हैं।

कार्यक्रम के मुख्य आकर्षणों में आईसीसी और जीसीसीआई के बीच हुआ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) भी शामिल था। इस समझौते का लक्ष्य गुजरात राज्य में सहयोगात्मक पहल को सुविधाजनक बनाना है, जिससे बिज़नेस ग्रोथ और डेवलपमेंट के लिए अनुकूल वातावरण को बढ़ावा दिया जा सकता है।
इसके अलावा, नेक्सस ग्रुप के डायरेक्टर श्री पाथिक एस. पटवारी को आईसीसी गुजरात स्टेट कॉउंसिल का नया अध्यक्ष भी नियुक्त किया गया है। अपनी नई भूमिका में, श्री पटवारी गुजरात में आईसीसी पहल का नेतृत्व करेंगे, जो इंटरनेशनल ट्रेड और इन्वेस्टमेंट को बढ़ावा देने के लिए संगठन के मिशन को आगे बढ़ाएगा।
दुनियाभर में 12 से अधिक देशों में अपने प्रतिनिधियों के साथ, इंडियन चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स अब वैश्विक व्यापार के लिए एक प्रमुख एडवोकेट के रूप में काम करना जारी रखेगा, जो सीमाओं के पार साझेदारी और अवसरों को आसान बनाएगा।

Loading...

Check Also

बायजूस ने उत्पाद और सेवाओं पर आर्गेनिक ग्रोथ के लिए ट्रांसफॉर्मेटिव सेल्स मॉडल का अनावरण किया

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : बायजूस के फाउंडर बायजू रवीन्द्रन ने 1500 से अधिक सेल्स ...