Breaking News

डिजिटल व्यक्तिगत डेटा संरक्षण विधेयक, 2023 आगामी संसद सत्र में होगा पेश

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : भारत सरकार ने दिसंबर, 2019 में संसद में व्यक्तिगत डेटा संरक्षण विधेयक, 2019 पेश किया था। विधेयक को संसद की संयुक्त समिति के पास विचार के लिए भेजा गया था। संयुक्त समिति ने विचार-विमर्श के बाद अध्यक्ष को एक रिपोर्ट सौंपी। हितधारकों और विभिन्न एजेंसियों की प्रतिक्रिया को देखते हुए, विधेयक को अगस्त, 2022 में वापस ले लिया गया। 18 नवंबर, 2022 को, सरकार ने डिजिटल पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल, 2022 नामक एक नया मसौदा विधेयक प्रकाशित किया और इस मसौदे पर सार्वजनिक परामर्श शुरू किया। इस विषय पर एक व्यापक और विस्तृत परामर्श आयोजित किया गया। इस संबंध में प्रमुख आंकड़े इस प्रकार हैं: जनता से 21,666 टिप्पणियाँ प्राप्त हुईं 46 सेक्टर संगठनों, संघों, उद्योग निकायों आदि के साथ परामर्श की श्रृंखला आयोजित की गई। भारत सरकार के 38 मंत्रालयों/विभागों से भी टिप्पणियाँ प्राप्त हुईं परामर्श और टिप्पणियों के दौरान उभरे बिंदुओं का गहन अध्ययन किया गया और डिजिटल व्यक्तिगत डेटा संरक्षण विधेयक, 2023 के मसौदे को अंतिम रूप दिया गया। बिल अब संसद के आगामी सत्र में पेश करने के लिए तैयार है।

Loading...

Check Also

25 फरवरी को दिल्ली में होगा कला-संस्कृति और परंपराओं का संगम “अपनो बुंदेली उत्सव”

सूर्योदय भारतात समाचार सेवा, भोपाल : बुंदेलखंड विकास परिषद के सहयोग से अपनो बुंदेली ट्रस्ट ...