Breaking News

अदाणी इंस्टीट्यूट ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट का 7वां दीक्षांत समारोह आयोजित

पीजीडीएम (इन्फ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट) से 56 और पीजीडीएम (लॉ) से 10 सहित 66 छात्रों को डिप्लोमा प्रदान किया गया

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, अहमदाबाद / लखनऊ : अदाणी इंस्टीट्यूट ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट (एआईआईएम) ने सोमवार को 2021-23 बैच के लिए दीक्षांत समारोह आयोजित किया, जिसमें दो एआईसीटीई अनुमोदित पीजीडीएम प्रोग्राम्स इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट और लॉ शामिल थे।
द इंफ्रावीजन फाउंडेशन के फाउंडर और प्रबंध ट्रस्टी विनायक चटर्जी, एआईआईएम के 7वें दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि थे। अदाणी फाउंडेशन की अध्यक्ष डॉ. प्रीति जी अदाणी ने अदाणी इंस्टीट्यूट ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर के निदेशक और अदाणी विश्वविद्यालय के प्रोवोस्ट प्रो. रवि पी. सिंह के साथ समारोह की अध्यक्षता की। इस कार्यक्रम में शिक्षा जगत और उद्योग जगत के गणमान्य सदस्यों ने भाग लिया।

द इंफ्रावीजन फाउंडेशन के फाउंडर और प्रबंध ट्रस्टी विनायक चटर्जी मुख्य अतिथि थे, डॉ. प्रीति जी अदाणी, अदाणी फाउंडेशन की अध्यक्ष द्वारा की गई अध्यक्षता

कुल 56 छात्रों ने पीजीडीएम (इन्फ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट) प्रोग्राम से और 10 छात्रों ने पीजीडीएम (लॉ) से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल किया। पीजीडीएम (इन्फ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट) से सुश्री बुरिगारी साईप्रसादिनी को उनके शैक्षणिक प्रदर्शन के लिए गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया।
2022 से एआईआईएम के अदाणी विश्वविद्यालय में परिवर्तन के बाद से पीजीडीएम (इन्फास्ट्रक्चर मैनेजमेंट) प्रोग्राम को एमबीए (इन्फ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट) में बदल दिया गया है। प्रथम वर्ष के एमबीए छात्रों को उनके शैक्षणिक प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया। एमबीए (आईएम) के जयवर्धन मित्तल, मयंक मेहता और अविनाश यादव, सभी को मेधावी शैक्षणिक प्रदर्शन के लिए प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।
छात्रों को संबोधित करते हुए, विनायक चटर्जी ने कहा, “जीवन में एक ऐसा उद्देश्य ढूंढना महत्वपूर्ण है जिसमें आपके ध्रुव तारे तक पहुंचने और उसे ग्रहण करने को क्षमता शामिल हो। इंफ्रास्ट्रक्चर आज का सबसे बड़ा करियर अवसर है, जहां राष्ट्र के अधिकतम संसाधन निवेश कर रहे हैं। संस्थान ने आप में लाइफ स्किल्स के समूह जैसे एटीट्यूड, आशावाद और आत्मविश्वास के साथ जोड़ा है, जो आपको अपने ध्रुव तारे का पता लगाने में मदद करेगा।”
डॉ. प्रीति जी. अदाणी ने कहा, ” इंफ्रास्ट्रक्चर वैश्विक अर्थव्यवस्था की रीढ़ है और यह भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए भी सबसे महत्वपूर्ण है। यह आपके करियर को शुरू करने के लिए निश्चित रूप से एक रोमांचक समय है। भारत फिलहाल रहने का सबसे उचित स्थान है और आप सभी के सामने जीवनभर का अवसर तैयार खड़ा है। आपने यहां प्रोजेक्ट मैनेजमेंट से लेकर रणनीतिक सोच तक, जटिल कानूनी ढांचों को समझने से लेकर वित्तीय और विश्लेषणात्मक तकनीकों में महारत हासिल करने तक, जो भी कौशल और ज्ञान अर्जित किया है, आपको कल के लीडर्स और इन्नोवेटर बनने के लिए तैयार किया है।”

एआईआईएम के इन्फ्रास्ट्रक्चर एजुकेशन और रिसर्च में उत्कृष्टता की ओर बढ़ने के सफर में 7वां दीक्षांत समारोह एक रोमांचक माइलस्टोन साबित हुआ। संस्थान अदाणी विश्वविद्यालय के तहत अपनी विरासत को जारी रखने और लगातार बढ़ते इन्फ्रास्ट्रक्चर इंडस्ट्री के लिए भविष्य के नेताओं को तैयार करने की आशा करता है।

Loading...

Check Also

सूर्या कमान में सेना के घुड़सवारों का शानदार प्रदर्शन

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ : खनऊ छावनी स्थित सूर्या खेल परिसर में घुड़सवारी प्रदर्शन ...