Breaking News

रोज कॉफी पीने से मिलेगी लंबी उम्र, डायबिटीज का खतरा होगा कम

रोज एक कप कॉफी पीने से आप लंबी उम्र हासिल कर सकते हैं। शोधकर्ताओं ने एक नए अध्ययन के आधार पर यह दावा किया है। शोधकर्ताओं ने पाया कि नियमित रूप से एक कप कॉफी पीने से दिल की बीमारी, कैंसर, आघात और मधुमेह का खतरा कम हो जाता है। अध्ययन के नतीजों ने दिखाया कि जो लोग प्रति दिन एक कप कॉफी पीते हैं उनमें असमय मौत का खतरा सामान्य लोगों के मुकाबले 12 फीसदी कम हो जाता है। जबकि जो लोग हर दिन दो कप कॉफी पीते हैं उनमें असमय मौत का खतरा सामान्य लोगों के मुकाबले 18 फीसदी तक कम हो जाता है। 
अमेरिका की सर्दन कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की सहायक प्रोफेसर वेरोनिका डब्ल्यू सेटियावान ने कहा, असमय मौत के खतरे को कम करने का संबंध कॉफी में मौजूद कैफिन से नहीं है। कोई व्यक्ति कैफीनयुक्त कॉफी पीए या कैफीनमुक्त, यह असमय मौत के खतरे को कम करने में कारगर है।

यह अध्ययन ‘एनल्स ऑफ इंटरनल मेडिसीन’ जर्नल में प्रकाशित हुआ है। इसके लिए यूनिवर्सिटी ऑफ हवाई कैंसर सेंटर और सर्दन कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के केक स्कूल ऑफ मेडिसीन द्वारा मिलकर किए गए एक अध्ययन से प्राप्त आंकड़ों का इस्तेमाल किया गया।

उस अध्ययन में 2.15 लाख प्रतिभागियों के आंकड़े थे। प्रतिभागी जातीय रूप से पर्याप्त विविधता वाले थे। उनका अध्ययन करके शोधकर्ता जानना चाहते थे कि उनकी जीवनशैली और उनमें कैंसर होने की संभावना के बीच क्या संबंध है।

शोधकर्ताओं ने कहा, अब तक बहुत कम आंकड़े ऐसे हैं जो असमय मौत के खतरे पर कॉफी के सेवन के प्रभाव को दर्शाते हैं। उन्होंने कहा, हमने अपने अध्ययन में विभिन्न जातीय समूहों पर कॉफी के प्रभाव का विश्लेषण किया। क्योंकि किसी एक समूह से मिले नतीजे किसी दूसरे समूह के नतीजों से अलग भी हो सकते थे।
सेटियावान ने कहा, उनके नतीजे अलग अलग जातीय समूहों में एक समान रहे। इसलिए यह कहा जा सकता है कि अध्ययन के नतीजे अन्य जातीय समूहों के लिए भी सुरक्षित हैं।

Loading...

Check Also

ग्लेनमार्क वयस्कों में अनियंत्रित टाइप 2 डायबिटीज़ के लिए भारत में लोबग्लिटाज़ोन लॉन्च करने वाली पहली फार्मास्युटिकल कंपनी बनी

 ग्लेनमार्क भारत की पहली कंपनी है, जिसने थायाझोलीडीनडायोन लोबेग्लिटाज़ोन (0.5 मिलीग्राम) लॉन्च किया इस ...