Breaking News

रातोंरात खुद बदल गया इस सड़क का नाम

कानपुर। भारत के सर्वोच्च संवैधानिक पद यानी राष्ट्रपति के रूप में पहली बार यूपी का कोई शख्स देश की कमान संभालने जा रहा है। 14वें राष्ट्रपति के रूप में देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए यूपी के उन्नाव में रहने वाले रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। पर आपको ये जानकर हैरानी होगी कि कोविंद के राष्ट्रपति का चुनाव जीतते ही उनके घर तक जाने वाली सड़क का नाम खुद ब खुद बदल गया है।

आपको बता दें कि जीटी रोड से इंदिरानगर जाने वाली सड़क का नाम लोग राष्ट्रपति के घर जाने वाली रोड बताने लगे हैं। इसी सड़क पर करीब सवा किलोमीटर आगे बाएं ओर दयानंद विहार सोसाइटी का रास्ता जाता है। अब दयानंद बिहार कॉलोनी के लोग खुद इसे राष्ट्रपति लेन बताने लगे हैं। कल्याणपुर से इंदिरा नगर को जाने वाले आटो, ई-रिक्शा और यहां तक टेंपो वाले भी सामान्य बोलचाल में राष्ट्रपति आवास रोड कहने लगे।

रातोरात बदल गई कॉलोनी की सूरत

दयानंद विहार कॉलोनी की सूरत और सीरत रातोरात बदल गई। शहर के दूसरे मोहल्लों, कॉलोनियों की तरह दयानंद विहार भी थी। जीटी रोड से इंदिरा नगर जाने वाले रास्ते पर कॉलोनी स्थित है। अभी तक दयानंद विहार उसी क्षेत्र के लोग जानते थे। शहर के लोगों के जेहन में इंदिरा नगर ही था। शहर के दूसरे हिस्सों से जाने वाले लोगों को दयानंद विहार खोजना पड़ता था। अब जीटी रोड से लोग बता देते हैं कि दयानंद विहार जाने का रास्ता इधर से है।

दयानंद विहार कॉलोनी गुरुवार को आम से खास हो गई। दूसरे आवासीय इलाकों की तरह यह कॉलोनी भी दूसरी समस्याओं से जूझ रही थी। सफाई, रोड, लो-वोल्टेज जैसी स्थाई समस्या रातोरात दुरुस्त हो गई। दयानंद विहार जाने वाली रोड की स्ट्रीट लाइटें बदल दी गईं। इस कॉलोनी की अब पहचान ही बदल गई।

महामहिम रामनाथ कोविंद के घर के ठीक सामने रहने वाले लोगों के अलावा आसपास गलियों के लोग भी गर्व से अपने घर का पता राष्ट्रपति के घर जाने वाली रोड पर बताने लगे। किसी का घर राष्ट्रपति आवास के पीछे है तो किसी का उनके आगे। कोई कहता कि मकान की बाउंड्री राष्ट्रपति आवास से जुड़ी है तो कोई कहता है कि छत जुड़ी है।

शुक्रवार को दोपहर लगभग ढाई बजे राष्ट्रपति के दयानंद विहार सोसाइटी के बाहर कई प्रशासनिक अफसरों की गाड़ियों का काफिला खड़ा था। यूपी 100 पुलिस की दो गाड़ियां खड़ी थी। पेड़ की छांव में खड़े खाकी वर्दीधारी आपस में चर्चा कर रहे थे कि अब तो रात-दिन इस कॉलोनी की सु्रक्षा करनी होगी। आपराधिक वारदात हुई तो यही कहा जाएगा कि राष्ट्रपति के मकान की कालोनी में लूट हो गई।

Loading...

Check Also

मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने कैदियों से किया संवाद एवं वितरित किए कंबल

अनुपूरक न्यूज़ एजेंसी, लखनऊ : उत्तर प्रदेश के कारागार एवं होमगार्ड्स राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ...