Breaking News

भाजपा को यही ‘विद्या’ अब आम आदमी को भी सिखानी चाहिए : राज बब्बर

लखनऊ: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह को लेकर हुए खुलासे के बाद अब राजनीति और गरमा गई है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने सोमवार को कहा कि ‘इतने कम समय में वही इतनी कमाई कर सकता है, जिसके अंकल प्रधानमंत्री हों और पापा ‘मोटाभाई शाह हों’. राज बब्बर ने यह भी कहा कि भाजपा को यही ‘विद्या’ अब आम आदमी को भी सिखानी चाहिए.

कांग्रेस दफ्तर में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में भाजपा पर हमला करते हुए राज बब्बर ने कहा , एक बेचारा चाय बेचने वाला, जो सवा सौ करोड़ देशवासियों को तीन साल में महंगाई, बेरोजगारी, लाचारी ही दे पाया था कि अचानक उसके बगल से भ्रष्टाचार ने भी जन्म ले लिया. उन्होंने कहा, ‘इस बीजेपी की सरकार में ‘बेटा मॉडल’ सिखाया जाता है, क्योंकि इस तरह के विद्या का ज्ञानी वही हो सकता है, जिसके अंकल पीएम हों और पापा मोटाभाई शाह हों.’

विदेशी निवेश किस आधार पर आया 
राज बब्बर ने कहा कि पहला सवाल यह है कि जो ‘टेम्पल प्राइवेट कंपनी’ थी, वह आखिर क्या व्यापार करती थी? दूसरा सवाल यह कि तीन साल चलाने के बाद इसे अचानक क्यों बंद करना पड़ा? जय शाह की कंपनी को 51 करोड़ रुपये का विदेशी निवेश भी आया है. यह किस आधार पर आया है?

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक सवाल यह भी है कि कुसुम कंपनी, जो एक छोटी सी कंपनी थी, रातो-रात उसे एक बड़ी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में बदला गया और इसे कालूपुर सहकारिता बैंक से 25 करोड़ रुपये कर्ज दिया गया था. जबकि इसके बदले में जो जमीन बंधक थी, उसकी कुल कीमत ही 6 करोड़ थी. क्या सरकार ऐसे कुछ और उदाहरण दे सकती है, जिन पर ऐसी अनुकंपा की गई हो.

पीयूष गोयल पर भी बोले 
राज बब्बर ने कहा कि कांग्रेस केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल से पूछना चाहती है कि क्या जय शाह कोई मंत्री हैं, जो उनके बचाव के लिए देश के कैबिनेट मंत्री को आगे आना पड़ा. जनता जानना चाहती है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जो काफी गरीब परिवार से आते हैं, वह गरीबों के हक की रक्षा करेंगे या सिर्फ दोस्ती निभाएंगे.

Loading...

Check Also

मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने कैदियों से किया संवाद एवं वितरित किए कंबल

अनुपूरक न्यूज़ एजेंसी, लखनऊ : उत्तर प्रदेश के कारागार एवं होमगार्ड्स राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ...