Breaking News

प्रद्मुम्न हत्याकांड में सीबीआई ने 11 वीं कक्षा के एक स्टूडेंट को आरोपी बनाया

नई दिल्ली : रेयान इंटरनेशलन स्कूल के प्रद्मुम्न हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 11वीं के कक्षा के एक स्टूडेंट को आरोपी बनाया है. सीबीआई की जांच में ये बात स्पष्ट हो चुका है कि प्रद्युम्न की मर्डर में बस कंडक्टर अशोक का हाथ नहीं है, बल्कि इसके पीछे 11वीं कक्षा के छात्र का हाथ है. प्रदुयम्न केस का हाल कहीं, आरुषि केस की तरह न हो जाए. क्योंकि इस केस में भी हरियाणा पुलिस और  सीबीआई की थ्योरी में कई चूक नजर आ रही है. इस बावत हमने इसकी पड़ताल करने की कोशिश की और एक कांस्पीरेसी थ्योरी बनाया कि आखिर हकीकत में क्या हुआ होगा? तो इसके लिए सबसे पहले जानते हैं कि किसने क्या-क्या कहा…हरियाणा पुलिस ने क्या कहा- सीसीटीवी में बाथरूम के बाहर कंडक्टर दिख रहा था. कंडक्टर अपना हाथ-मुंह वॉश बेसिन में साफ कर रहा था. कंडक्टर के कपड़ों पर खून के निशान मिले. कंडक्टर ने कबूला कि उसने कत्ल किया है. कंडक्टर बस की किट में चाकू रखता था. कंडक्टर को गलत हरकत करते प्रद्मुम्न ने देखा. कंडक्टर का मकसद बच्चे का यौन शोषण करना था.

सीबीआई ने क्या कहा- सीटीवी फुटेज में आरोपी छात्र दिख रहा है.आरोपी ने क्लास के साथियों से कहा कल से स्कूल बंद.आरोपी छात्र ने दोस्तों से कहा था कि परीक्षा टल जाएगी. टीचर, दोस्तों ने उसे चाकू ले जाते हुए देखा.आरोपी छात्र चाहता था कि परीक्षा रद्द हो जाए.

रिपोर्टर की पड़ताल कहती है कि अगर कंडक्टर को यौन शोषण करना था तो उस बाथरूम का इस्तेमाल कैसे करता, जहां वो फंस सकता था. कंडक्टर भी तो जानता था कि बाहर कैमरे लगे हुए हैं.

बता दें कि दक्षिण दिल्ली के रेयान स्कूल में एक बच्चे की स्विमिंग पूल में मौत हो गई थी. अब सारा कुछ सीबीआई और अदालत पर निर्भर करता है कि सच्चाई सामने आए, वरना यह भी एक और एक मडर मिस्ट्री केस आरूषी केस बन कर रह जाएगा.

Loading...

Check Also

शरद यादव : सामाजिक न्याय के बड़े योद्धा का असमय जाना ……..

सूर्योदय भारत समाचार सेवा विशेष : भारतीय राजनीति में क़रीब 50 साल तक सक्रिय रहे ...