Breaking News

करवा चौथ का खास दिन पति-पत्नी के बीच प्यार और अपनेपन की एक अलग मिठास घोल देता है

करवा चौथ का खास दिन पति-पत्नी के बीच प्यार और अपनेपन की एक अलग मिठास घोल देता है. करवा चौथ का व्रत निर्जला होता है और इसमें पूरे दिन न तो कुछ खाना होता और ना ही कुछ पीना होता है. हम सभी यह जानते हैं कि पानी हमारे शरीर के लिए कितना जरूरी है, शरीर में इसकी कमी से करवा चौथ के बाद कई महिलाएं बीमार तक हो जाती हैं. तो आइये आपको देते हैं कुछ ऐसे टिप्स, जिनसे आपके व्रत की आस्था में कोई कमी भी ना हो और आप बीमार भी ना पड़ें.

व्रत के पहले और बाद में लें सही आहार
व्रत के बाद बीमार होने का सबसे बड़ा कारण होता है व्रत के पहले और बाद में गलत आहार का सेवन. इसलिए करवा चौथ व्रत के एक दिन पहले और व्रत खोलने के बाद सही आहार लेना जरूरी है. सही आहार से शरीर को एनर्जी मिलती है और आप सही से व्रत पूरा कर पाती हैं.

व्रत से पहले ना खाएं ये चीजें
करवा चौथ के दिन सुबह उठकर महिलाएं चाय पीती हैं और फिर व्रत की शुरुआत करती हैं. लेकिन इसकी तैयारी आपको एक दिन पहले ही कर देनी चाहिए. करवा चौथ के एक दिन पहले ज्यादी हेवी डिनर ना करें, जिसे पचाने में दिक्कत हो. व्रत से पहले डिनर में और सुबह में कुछ भी मीठा या कोई भी मिठाई ना खाएं. मीठा खाने से ज्यादा प्यास लगेगी और ब्लड शुगर कम होने लगेगा. व्रत से पहले डिनर में हद से ज्यादा ना खाएं, क्योंकि ऐसा करने से जल्दी भूख लग सकती है. इसलिए डिनर में बीन्स और सूप ले सकती हैं.

व्रत के बाद क्या खाना होगा बेहतर
पूरे दिन निर्जला व्रत रखने के बाद डाइजेस्टिव सिस्टम कमजोर हो जाता है, इसलिए व्रत के बाद हेवी डिनर से बचना चाहिए. व्रत खोलने के बाद ग्रीन टी या सूप पीएं और फिर डिनर करें. डिनर में आप फ्रूट्स या स्प्राउट्स खा सकती हैं, ये आपको एनर्जी देंगे. व्रत के बाद खट्टे फ्रूट्स ना खाएं, क्योंकि इससे एसिडिटी हो सकती है.

Loading...

Check Also

काशी तमिल संगमम समारोह का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया उदघाटन

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री डॉ0 एल0 मुरुगन ने कहा प्रधानमंत्री की दूरदर्शी सोच का ...