Breaking News

उ प्र नगर निकाय चुनाव पहला चरण : शामली में आचार संहिता की खुलेआम धज्जियां , कई जिलों में इवीएम खराब

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव के पहले चरण के लिए वोटिंग जारी है। पहले चरण में सूबे के कुल 24 जनपदों में वोट डाले जा रहे हैं। मतदान सुबह साढ़े सात बजे से शाम पांच बजे तक होगा। वहीं आगरा के शमसाबाद के एपी इंटर कालेज मतदान केंद्र पर ड्रोन कैमरा निगरानी कर रहे हैं। वोटों की गिनती 1 दिसंबर को की जाएगी। इस बीच कानपुर के वार्ड 66 और मेरठ के वार्ड 85 में ईवीएम खराब होने के चलते हंगामा हुआ। मतदाताओं के हंगामा को देखते हुए प्रशासनिक अधिकारी फौरन मौके पर पहुंचे। इसके अलावा शामली में आचार संहिता की खुलेआम धज्जियां उड़ाई गईं। चुनाव प्रचार वाली कप में चाय बांटी गई। फिलहाल इस मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई है। वहीं, कानपुर के रावतपुर में EVM में खराबी के चलते मतदान नहीं शुरू हो पाया है। इसके अलावा मेरठ के बूथ संख्या 243 की ईवीएम खराब होने का भी मामला सामने आया है। जाकिर कॉलोनी के वार्ड 85 में ईवीएम खराब होने के चलते लोगों की भीड़ जमा हो गई है। कानपुर के वार्ड 66 और मेरठ के वार्ड 85 में ईवीएम खराब होने के चलते हंगामा भी हुआ। मतदाताओं के हंगामा को देखते हुए प्रशासनिक अधिकारी फौरन मौके पर पहुंचे।

पहले चरण में प्रदेश के 5 नगर निगम, 71 नगर पालिका और 154 नगर पंचायतों में मेयर, अध्यक्ष, पार्षद और सभासद पदों के लिए मतदान हो रहे हैं। पहले चरण के मतदान के लिए 3,732 मतदान केंद्र और 11679 मतदान स्थल बनाए गए हैं।

पहले चरण में मेरठ, आगरा, कानपुर, अयोध्या और गोरखपुर में मेयर पद के चुनाव के लिए मतदान हो रहे हैं. इसके अलावा शामली, हापुड़, बिजनौर, हाथरस, कासगंज, जालौन, बदायूं, हमीरपुर, चित्रकूट, कौशांबी, कासगंज, प्रतापगढ़, उन्नाव, हरदोई, अमेठी, गोंडा, बस्ती, आजमगढ़, गाजीपुर और सोनभद्र जिलों के 71 नगर पालिका परिषद और 154 नगर पंचायत में भी वोटिंग हो रही। पहले चरण के मतदान में तकरीबन एक करोड़ 92 लाख मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे।

पहले चरण में उत्तर प्रदेश के 24 ज़िलों के 5 नगर निगमों के मेयर का चुनाव के लिये वोट डाले जा रहे हैं।
आज पहले चरण के लिए राज्य के गोरखपुर और अयोध्या में वोट डाले जा रहे हैं।
2012 में हुए स्थानीय चुनावों में 13 नगर निगमों में से बीजेपी ने 11 पर जीत दर्ज की थी।

Loading...

Check Also

जाति के आधार पर आँकड़े जुटाकर ही किया जा सकता है पिछड़ेपन का निदान: उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव

अनुपूरक न्यूज़ एजेंसी, पटना‌: दुनिया भर के देश और सरकारें अपनी योजनाओं, बजट आवंटन, विभिन्न ...