Breaking News

इन लक्षणों को किया नजरअंदाज तो नहीं बनेगा खून

हमारे शरीर में बहुत से बदलाव होते रहते हैं. जिनका हमें पता भी नहीं चल पाता है. कई बार इंसान के शरीर में बीमारियां घर कर जाती हैं लेकिन उसे इस बात का एहसास नहीं होता. शरीर में हो रहें कुछ बदलाव को तो हम नजरअंदाज तक कर जाते हैं.

हमारे शरीर में होने वाली ऐसी बहुत सी बीमारियां होती हैं. जिनका हमने कभी नाम भी नहीं सुना होता है. जैसे की एनिमिया. ये बीमारी शरीर में खून की कमी के कारण होती है. इस बीमारी के चलते व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधित कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है. व्यक्ति की ऊर्जा शक्ति खत्म हो जाती है.

एनीमिया होने के कारण

जरुरत से ज्यादा शरीर में कैल्शियम होना भी एनीमिया का कारण हो सकता है.

फॉलिक एसिड की कमी भी एनीमिया का कारण है.

एनीमिया होने का सबसे बड़ा कारण है शरीर में आयरन की कमी होना.

जो लोग हरी सब्जियां का सेवन नहीं करते, उनको भी एनीमिया होने की शिकायत हो सकती है.

लक्षण

आंखों के सामने अंधेरा छा जाना भी एनीमिया का लक्षण है.

थकान महसूस होना एनीमिया का लक्षण है.

नाखूनों का पीला पड़ना एनीमिया का लक्षण है.

एनीमिया से बचने के उपचार

आयरन युक्त भोजन करना चाहिए ये एनिमिया में बहुत फायदेमंद होते है. इसीलिए डाइट में आयरन से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए.

पालक में मौजूद आयरन को शरीर आसानी से सोख लेता है, जिससे हिमोग्लोबिन बढ़ता है। ऐसे में अपनी डाइट में पालक को जरूर शामिल करें.

ब्रोकोली में एनीमिया से लड़ने वाले जरूरी तत्व मौजूद होते है. ऐसे में इसका सेवन करके शरीर में खून की कमी को पूरा किया जा सकता है.

एनीमिया में अंजीर का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है. अंजीर में विटामिन बी12, कैल्शियम, आयरन, फास्‍फोरस, पोटैशियम जैसे तत्‍व मौजूद होते है, जो खून की कमी दूर करते हैं।

चुकंदर में आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में खून की कमी को पूरा करता है। सलाद या सब्जी के रूप में इसका सेवन करें।

Loading...

Check Also

सेना के मध्य कमान हॉस्पिटल में केराटो-रीफ्रैकटिव सर्जरी और लेसिक केंद्र का उद्घाटन

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ : मध्य कमान अस्पताल के नेत्र विज्ञान विभाग में केराटो-रीफ्रैकटिव ...