Breaking News

30 साल में पहली बार मानसून ‘एक्सप्रेस’ सबसे लेट

इस बार मानसून ने देरी का रिकार्ड तोड़ दिया है। 30 साल में यह पहली बार है जब मानसून तय समय से 12 दिन के बाद भी न आया हो। इससे पहले साल 1987 में मानसून 27 जुलाई को आया था। चंडीगढ़ में मानसून पहुंचने की तय तारीख 28 जून है। दस जुलाई होने को है, लेकिन अब तक चंडीगढ़ में मानसून नहीं पहुंचा है। साल 2004 को आठ जुलाई, साल 2002 को चार जुलाई और साल 2016 को दो जुलाई को मानसून ने चंडीगढ़ में एंट्री मारी थी।
चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों को छोड़कर बाकी जगह में मानसून पहुंच चुका है। चंडीगढ़ मौसम विभाग के डायरेक्टर सुरेंद्र पाल ने बताया कि मानसून आने के लिए दक्षिण से उत्तर की ओर हवा का रुख होना चाहिए। एक जुलाई के आसपास कुछ समय हवाएं आईं, लेकिन उसके बाद उनका रुख हिमाचल की ओर हो गया। इस वजह से मानसून थम गया है।

फिर से बन रहा माहौल
सुरेंद्र पाल ने बताया कि हवाओं का रुख फिर से बदलने लगा है। 11 से लेकर 13 जुलाई तक बारिश के आसार हैं। इसी दौरान मानसून आने की पूरी संभावना है। मौसम विभाग की ओर से बताया गया है कि पूरे उत्तर भारत में इन तीन दिन चंडीगढ़ समेत हरियाणा और पंजाब में अच्छी बारिश के संकेत हैं। दस जुलाई की शाम से मौसम में थोड़ा बदलाव देखने को मिलेगा।

तीन डिग्री बढ़ा तापमान
मानसून से देरी आने का असर तापमान पर पड़ने लगा है। पिछले तीन दिन से अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। रविवार को अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक था। इसी प्रकार रात का तापमान भी 27.9 डिग्री रिकार्ड किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक था। गर्मी के साथ उमस भी बढ़ी है। उमस की अधिकतम मात्रा 85 प्रतिशत दर्ज की गई, जबकि न्यूनतम 44 प्रतिशत रिकार्ड हुई।

कल से गिरेगा पारा
तापमान में बदलाव मंगलवार से देखने को मिल सकता है। रविवार को 37.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जबकि मंगलवार को अधिकतम तापमान में करीब पांच डिग्री की गिरावट दर्ज की जा सकती है। रात के तापमान में भी गिरावट आने की संभावना है। करीब तीन से चार डिग्री गिरावट दर्ज होगी।

मानसून की अनुकूल परिस्थितियां बनने लगी हैं। अगले तीन से चार दिन में मानसून आने की संभावना है। इस दौरान गर्मी से थोड़ी राहत मिलेगी।
सुरेंद्र पाल, डायरेक्टर, मौसम विभाग, चंडीगढ़

-1987 में 27 जुलाई को आया था मानसून
-2007 में आठ जुलाई को मारी थी एंट्री
-अगले तीन से चार दिन में जताई गई संभावना

Loading...

Check Also

“BJP पहले डर फैलाती है, फिर इसे हिंसा में बदल देती है” : राहुल गाँधी

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, बोदरली – बुरहानपुर : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई वाली ...