Breaking News

सोनी सब के ‘पुष्पा इम्पॉ‍सिबल’ में अपने पति के अत्याचारों के खिलाफ खड़े होने में पुष्पाा करेगी नीलिमा की मदद

सूर्योदय भारत समाचार सेवा : हम हर दूसरे दिन देश भर से घरेलू हिंसा के मामलों के बारे में पढ़ते-सुनते रहते हैं। इस सप्ता ह सोनी सब के सबसे पसंदीदा शो ‘पुष्पाघ इम्पॉ सिबल’ में इस विषय को उजागर किया जायेगा। इस शो के आगे की कहानी में हम देखेंगे कि पुष्पाो अपनी दोस्तल नीलिमा को उसके पति के अत्या चारों से बचाने के लिये आगे कदम बढ़ायेगी और वह भी दशहरा के मौके पर, जिस दिन हम अपनी सभी बुराईयों का नाश करते हैं। जिन महिलाओं पर उनके परिवार वाले अत्या चार करते हैं, उन्हेंो लोगों की मदद और किसी ऐसे शख्सल के साथ की जरूरत होती है, जो जरूरत पड़ने पर उनके लिये खड़ा होगा और एक महिला के लिये दूसरी महिला के साथ से बेहतर इस भूमिका को कौन निभा सकता है?

दशहरा की शाम, बापोद्रा चॉल के निवासी रावण दहन की तैयारी कर रहे हैं और इस पावन अवसर से पहले पुष्पात पूजा कर रही है। अपनी दोस्ता को हर दिन उसके पति के हाथों शोषण का शिकार होता देखकर पुष्पाह बेहद परेशान और दु:खी है, इसलिये वह हमेशा के लिये उसके अत्या चारों को समाप्तव करने की योजना बनाती है। वह जैसे ही आगे बढ़ती है, उसे नीलिमा के घर से चीखने की आवाज सुनाई देती है। वह नीलिमा के घर में घुस जाती है और वहां देखती है कि नीलिमा का पति उसे बेल्टे से पीट रहा है। अपनी योजना के अनुसार, पुष्पात बेल्टव को हवा में पकड़ लेती है। इसके बाद हम देखते हैं कि पुष्पा नीलिमा के घर से निकल रही है और उसके चेहरे पर खून के छींटे हैं। नीलिमा का पति अपने ही खून में लथपथ मिलता है, जिसका मतलब यह है कि पुष्पा पर मुसीबत आने वाली है।

पुष्पा ने रमेश के साथ क्या किया? क्याल पुष्पाा को आपराधिक आरोपों का सामना करना होगा?

करूणा पांडे, जो कि पुष्पा‍ का किरदार निभा रही हैं, ने कहा, ‘’स्त्रियों के प्रति समाज की पिछड़ी मानसिकता की वजह से सालों से महिलाओं को अत्यापचारों का सामना करना पड़ रहा है। बेहद दु:ख की बात है कि घरेलू हिंसा आज भी कई रूपों में मौखिक और शारीरिक रूप से व्याापक स्त र पर फैला हुआ है और नजर आता है। घरेलू हिंसा का शिकार महिलाओं को खुद के लिये खड़े होने के लिये हर तरह के सपोर्ट और प्रोत्सा हन की जरूरत होती है। ऐसे दुर्भाग्यापूर्ण समय में, महिलाओं को एकजुट रहने और एक-दूसरे के लिये संघर्ष करने की जरूरत होती है, क्योंाकि यदि हम एकजुट होकर मुकाबला नहीं करेंगे, तो हजारों नीलिमाओं को खामोशी के साथ ऐसे अत्या चारों को सहना होगा। नीलिमा के पति का क्याए हुआ और क्याी वह आखिरकार उसके अत्यांचारों से मुक्तस हो पाई, यह जानने के लिये देखते रहिये ‘पुष्पा इम्पॉयसिबल’।‘’

देखिये ‘पुष्पाख इम्पॉेसिबल’, हर सोमवार से शनिवार, रात 9:30 बजे सिर्फ सोनी सब पर!

Loading...

Check Also

साल का गरजता प्रीमियर ‘आरआरआर’, इस रविवार दोपहर 12 बजे, सिर्फ एंड पिक्चर्स पर

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, मुम्बई / चेन्नई : राम की जबर्दस्त ज्वाला, भीम की भयंकर ...