Breaking News

सर्वश्रेष्ठ देने के बावजूद भारत फाइनल में नहीं

लंदन। भारत के गोविंदन लक्ष्मणन ने विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की पुरुषों की 5000 मीटर दौड़ में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, लेकिन फाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके। लक्ष्मणन ने 13 मिनट 35.69 सेकेंड का समय निकाला जो उनके निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 13 मिनट 36.62 सेकेंड से बेहतर था। वह दुनिया के चोटी के धावकों में 15वें स्थान पर रहे, जिनमें गत चैम्पियन ब्रिटेन के मो फराह भी शामिल थे। लक्ष्मणन 31वें स्थान पर रहे चूंकि दोनों हीट में से शीर्ष 5 और अगले 5 सबसे तेज धावकों ने फाइनल के लिए क्वालीफाई किया। लक्ष्मणन एकमात्र भारतीय हैं, जिन्होंने इस चैम्पियनशिप में अपने निजी सर्वश्रेष्ठ स्कोर से बेहतर प्रदर्शन किया। उनका प्रदर्शन इसलिये भी अहम है क्योंकि वह लगातार बारिश के बीच दौड़े। यहां तापमान भी 15 डिग्री सेल्सियस से कम है। उन्होंने रेस के बाद कहा, ‘यह मेरी पहली विश्व चैम्पियनशिप है और मैं यहां राष्ट्रीय रिकार्ड तोड़ने के इरादे से आया था। मैं ऐसा नहीं कर सका, लेकिन अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। मैं आखिरी दौर के लिए क्वालीफाई नहीं कर सका, लेकिन मैं निराश नहीं हूं, क्योंकि मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।’

एल्लेसन फेलिक्स ने की बोल्ट की बराबरी
लंदन में चल रहे विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में अमेरिका की एल्लेसन फेलिक्स ने कांस्य पदक जीत पदकों की संख्या के मामले में जैमका के उसैन बोल्ट और मेर्लेनी ओट्टे की बराबरी कर ली है। विश्व चैंपियनशिप में फेलिक्स का यह 14वां पदक है जोकि बोल्ट और ओट्टे के बारबर है। इन 14 पदकों में फेलिक्स के 9 स्वर्ण पदक हैं। विश्व चैंपियनशिप के अलावा ओलंपिक में भी फेलिक्स का प्रदर्शन शानदार रहा है, जहां 6 स्वर्ण के साथ उन्होंने कुल 9 पदक अपने नाम किये हैं। अपना आखिरी टूर्नामेंट खेल रहे बोल्ट को अभी 4×400 रिले दौड़ में भाग लेना है और उनके पास विश्व चैंपियनशिप में अपने पदकों की संख्या को 15 करने मौका होगा।

400 मीटर में चैंपियन बनी फ्रांसिस
अमेरिका की फीलिस फ्रांसिस ने ओलंपिक चैंपियन बहरीन की शॉनी मिलर यूइबो को पछाड़ते हुए विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में महिलाओं की 400 मीटर दौड़ का स्वर्ण पदक जीत लिया। फ्रांसिस 80 मीटर तक दौड़ में कहीं से भी पदक की होड़ में शामिल नहीं थी। लेकिन इसके बाद उन्होंने गजब की वापसी करते हुए 49.92 सेकेंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकालते हुए विश्व चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया। बहरीन की 19 वर्षीय सलवा ईद नासिर ने इस सप्ताह अपना तीसरा राष्ट्रीय रिकार्ड बनाते हुए 50.06 सेकेंड का समय लेकर रजत पदक अपने नाम किया। इसके अलावा गत चैंपियन अमेरिका की एलिसन फेलिक्स बहरीन की नासिर से मात्र 2 सेकेंड पीछे रहते हुए 50.08 सेकेंड के समय के साथ कांस्य पदक हासिल किया। वहीं रियो ओलंपिक चैंपियन शॉनी मिलर यूइबो 50.49 सेकेंड के समय के साथ चौथे नंबर पर रही।

Loading...

Check Also

बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को 5 रन से हराया, तीन मैचों की श्रृंखला में भारत 2-0 से पीछे

ढाका : बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को हरा दिया है। इसके साथ ...