Breaking News

विदाई रेस में तीसरे नंबर पर रहे दुनिया के सबसे तेज धावक

नई दिल्लीः दुनिया के सबसे तेज धावक उसेन बोल्ट अपनी विदाई रेस को में स्वर्ण पदक नहीं हासिल कर सके. वर्ल्ड एथलेक्टिस चैंपियनशिप के अपने आखिरी फर्राटा रेस में उन्हें अमेरिका के जस्टिन गैटलिन के हाथों उलटफेर का शिकार होना पड़ा. बोल्ट 100 मीटर रेस में तीसरे स्थान पर रहे. आपको बता दें कि 100 मीटर फर्राटा रेस में उसेन बोल्ट को हमेशा गैटलिन ने ही टक्कर दी है. 2016 के रियो ओलंपिक के दौरान गैटलिन दूसरे नंबर पर रहे. 100 मीटर की फर्राटा रेस में गैटलिन को ही बोल्ट का उत्तराधिकारी माना जा रहा था.

 

लंदन के खचाखच भरे ओलिंपिक स्टेडियम में आखिरी बार दौड़ रहे बोल्ट से पहले के दोनों स्थानों पर अमेरिकी धावकों ने कब्जा जमाया. 100 मीटर की दूरी जस्टिन गैटलिन ने 9.92 सेकंड में तय करके स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया वहीं, वहीं क्रिस्टियन कोलमैन ने 9.94 सेकंड में रेस पूरी करते हुए सिल्वर मेडल जीता. रिकॉर्ड 8 बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता उसेन बोल्ट ने 9.95 सेकंड में रेस खत्म करते हुए कांस्य पदक हासिल किया. जबकि रियो ओलंपिक में बोल्ट का स्कोर 9.80 रहा था. आप वीडियो में देख सकते है कैसे रियो ओलंपिक में गैटलिन और बोल्ट के बीच हुई थी कांटे की टक्कर.

 

जीतने पर भी बोल्ट के आगे नतमस्तक हुए गैटलिन

जमैका के धावक बोल्ट ने साल 2015 में बीजिंग में हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप में गैटलिन को मात दी थी. हालांकि वह इस प्रदर्शन को नहीं दोहरा पाए. उन्हें जीत के साथ कामयाब करियर का समापन करते देखने आए फैन्स उनके तीसरे नंबर पर रहने से हैरान दिखे. जीतने के बाद गैटलिन ने भी बोल्ट के सामने झुककर इस दिग्गज खिलाड़ी को सम्मान दिया, बोल्ट ने खेल भावना का परिचय दिया.

Loading...

Check Also

मूक – बधिरों के लिए आयोजित 6वीं आईडीसीए टी20 नेशनल क्रिकेट चैंपियनशिप 2022 के फाइनल मुकाबले में हरियाणा ने मारी बाजी

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, आगरा : बधिरों के लिए आयोजित 6वीं आईडीसीए टी20 नेशनल क्रिकेट ...