Breaking News

लखीमपुर में युवती का दुराचार करने में विफल हुए, आसिफ और सलीमुद्दीन ने मां-बेटी को पीटा, युवती की मृत्यु !

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। लखीमपुर खीरी जिला के एक गांव में पिछले सोमवार को दो मुस्लिम युवकों द्वारा एक युवती का दुष्कर्म करने में असफल होने के बाद उसे बुरी तरह पीटा था, जिसके बाद घायल युवती की शुक्रवार को मौत होने से गांव में सांप्रयायिक तनाव फैल गया है। कहा जा रहा है कि युवती पर युवकों ने धारदार हथियार से हमला किया था। युवती की मौत के बाद पुलिस ने पुरानी एफआईआर में ही गैर-इरादतन हत्या की धारा जोड़ दिया है। मामले में एक चौकी प्रभारी को भी निलंबित कर दिया गया है। आरोप है कि उसने पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर कार्रवाई नहीं की थी कि युवती का यौन उत्पीड़न किया गया है।खीरी पुलिस ने शनिवार को यहां आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ”मामले में पुलिस की जांच और शुक्रवार को पीड़िता की मौत के बाद एफआईआर में आईपीसी की धारा 324 और 304 जोड़ दी गई है।”पुलिस ने बताया कि उन्हें प्राथमिकी से छेड़छाड़ का पता चला है। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में पीड़िता के परिजन एफआईआर से छेड़छाड़ का आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह को दी गई है। इस बीच पुलिस प्रवक्ता ने बताया, “शनिवार को सोशल मीडिया पर हमारे संज्ञान में आया कि पीड़ित परिवार ने उनकी शिकायत से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। इसके बाद संबंधित चौकी इंचार्च को निलंबित कर दिया गया है।” बताते हैं कि पीड़िता की मां और भाई ने शुक्रवार को आरोप लगाया था कि दोनों आरोपियों ने दुष्कर्म का प्रयास करने के बाद युवती पर धारदार हथियार से हमला किया। 12 सितंबर को घटना के बाद पीड़िता की मां की शिकायत पर दो युवकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।पीड़िता के परिजनों और ग्रामीणों द्वारा प्रदर्शन करते हुए शीघ्र न्याय दिलाने की मांग करने पर गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। एएसपी अरुण कुमार सिंह, डीएसपी गोला और अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को शीघ्र न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है।जानकारी के अनुसार भीरा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 18 वर्षीय युवती 12 सितंबर को अपने घर में अकेली थी, जो दरवाजे पर बैठी थी। तभी गांव के ही सलीमुद्दीन और आसिफ आ गए और युवती के साथ अभद्रता करते हुए छेड़छाड़ करने लगे। युवती ने विरोध किया तो दोनों आरोपियों ने युवती की पिटाई कर दी। इसी दौरान युवती की मां भी आ गई तो आरोपियों ने उसकी भी पिटाई कर दी। इसके बाद पीड़ित मां ने भीरा थाने पहुंचकर तहरीर दी, जिस पर पुलिस ने मामूली धाराओं में एनसीआर दर्ज कर इतिश्री कर ली। उधर, घायल युवती को उसकी मां ने बिजुआ सीएचसी में भर्ती कराया। शुक्रवार को भी मां के साथ युवती दवा लेने बिजुआ सीएचसी गई थी। वहां से लौटने के बाद शाम करीब आठ बजे उसकी तबीयत बिगड़ने से मौत हो गई। इसके बाद घर में कोहराम मच गया।

Loading...

Check Also

हम सभी संकल्प लें कि ना गंदगी करेंगे और ना दूसरे को गंदगी करने देंगे : मंत्री ए के शर्मा

राहुल यादव, लखनऊ : नगर विकास मंत्री ए0के0 शर्मा ने 02 अक्टूबर गांधी जयंती के ...