Breaking News

भाजपा मंत्री की काली कमाई की लिस्ट हाईकोर्ट को सौंपी

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ में वर्षों से जमी भाजपा की रमन सिंह सरकार के स्वास्थ्य और पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर अब कालाधन मामले में गंभीर संदेह की जद में आ गए हैं। हाईकोर्ट में याचिकाकर्ता कृष्णकुमार साहू और मनप्रीत बल ने 2000 से ज्यादा पन्नों के ऐसे दस्तावेज अदालत को सौंपे हैं जिससे मंत्री की बेशकीमती नामी और बेनामी संपत्ति का विवरण भरा हुआ है। याचिकाकर्ता ने इस मामले में सीबीआई जांच की अपील की है। याचिकाकर्ताओं ने अनुपातहीन संपत्ति से जुड़े 16 ऐसे प्रकरण भी प्रस्तुत किए गए हैं जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने जांच के आदेश दिए थे। ये वही मंत्री हैं जिन पर 2015 में राज्य ग्रामीण विकास संस्थान में प्रशिक्षण के लिए आई कुछ युवा महिला अधिकारियों के यौन प्रताड़ना का आरोप लगा था।

याचिका में कहा गया है कि चंद वर्षो में ही छत्तीसगढ़ राज्य के स्वास्थ्य और पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर और उनके परिजनों की संपत्ति अरबों में हो गई। बैंकों में खाते भी कहीं अजय चंद्राकर तो कहीं अजोय चंद्राकर के नाम से खोले गए। नोटबंदी के दौरान इन खातों में करोड़ों रुपए जमा हुए। इस बाबत याचिकाकर्ता ने बैंक प्रबंधन से भी पूछताछ और जांच की मांग की।

तालाब खरीदा और कालोनी काट दी
इसके साथ ही बहस के दौरान याचिकाकर्ता ने अपने वकील के जरिए एक और अनुपातहीन संपत्ति का मामला उठाया। दस्तावेज पेश करते हुए अदालत की संज्ञान में यह बात लाई गई कि मंत्री महोदय ने धमतरी शहर में एक तालाब खरीदा और उस पर आवासीय कॉलोनी भी बना दी।

यह तालाब मंत्री जी ने अपने भाई के नाम से खरीदा था। जबकि NGT के साफ निर्देश है कि पर्यावरण बचाने के लिए तालाबों का अस्तित्व बरकरार रखना होगा। फिलहाल मामले की अगली सुनवाई 3 अगस्त से प्रारंभ होगी। इस सुनवाई में याचिकाकर्ता की ओर से पेश नामी और बेनामी संपत्ति के ब्योरे पर मंत्री जी को अपना जवाब पेश करना होगा।

Loading...

Check Also

बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को 5 रन से हराया, तीन मैचों की श्रृंखला में भारत 2-0 से पीछे

ढाका : बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को हरा दिया है। इसके साथ ...