Breaking News

प्रतिद्वंद्वी ऐप कैसे काम करते हैं, यह जानने के लिए Google यूजर्स के डेटा की कर रहा जासूसी

गूगल के द्वारा इस पर नजर रखने की बात कही जा रही है कि उनके यूजर्स प्रतिद्वंद्वी एंड्रॉयड ऐप्स के संपर्क में किस तरह से आते हैं और ऐसा अपने खुद के प्रोडक्ट्स को बेहतर बनाने के चलते किया जा रहा है। एक इंटरनल प्रोग्राम की मदद से कंपनी ऐसा कर रही है।


रिपोर्ट में दावा किया गया है, भारत में इस महीने की शुरूआत में जब यूट्यूब की तरफ से अपने प्रतिद्वंद्वी टिकटॉक को पछाड़ने की योजना बनाई जा रही थी, उस वक्त मार्केट रिसर्च के तौर पर कर्मचारी इस बात का पता लगाने में जुट गए थे कि अपने देश में लोग एंड्रॉयड पर टिकटॉक और इसके प्रतिद्वंद्वी ऐप्स का इस्तेमाल कैसे कर रहे हैं।

यह प्रोग्राम गूगल मोबाइल सर्विसेज (जीएमएस) के माध्यम से काम करता है।द इंफॉर्मेशन की एक रिपोर्ट के अनुसार, गूगल पर एंड्रॉयड लॉकबॉक्स नामक एक इंटरनल प्रोग्राम है, जो यहां के कर्मचारियों को डेटा तक पहुंच प्रदान करने में कारगर है। प्रोग्राम की मदद से यह देखा जा रहा है कि एंड्रॉयड उपयोगकर्ता टिकटॉक, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे लोकप्रिय नॉन-गूगल ऐप के संपर्क में कैसे आते हैं।

Loading...

Check Also

एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूज़र्स हो जाएं सचेत, आपके क्रेडिट कार्ड की जानकारी खतरे में

सुरक्षा शोधकर्ताओं की एक टीम द्वारा एक नया एंड्रॉयड मैलवेयर खोजा गया है जो सोशल, ...