Breaking News

“नो फ्लाई जोन“ में मंडराया हेलीकॉप्टर , हड़कंप, जाँच में जुटीं एजेंसियां

लखनऊ : प्रदेश के फ़ैजाबाद जिले के धर्मिक स्थल अयोध्या में गुरुवार सुबह राम जन्म भूमि विवादित स्थल पर एक अज्ञात हेलीकॉप्टर मडराने की खबर से आला अफसरों के हाथ पांव फूल गए। खबर लिखे जाने तक ये पता नहीं लग सका था कि आखिर ये हेलीकॉप्टर “अति सुरक्षित और नो फ्लाई जोन” में कैसे मंडराया और ये किसका था। फ़िलहाल ख़ुफ़िया विभाग से लेकर उच्च अधिकरी इस हेलीकॉप्टर को लेकर परेशान नजर आ रहे हैं। जाँच एजेंसियां भी सक्रीय हो गयी हैं।

अयोध्या के ऊपर काफी नजदीक से हेलीकॉप्टर गुजरा तो स्थानीय निवासी भी कुछ समझ नहीं पाए। परिसर में तैनान सुरक्षा कर्मियों को जब तेज आवाज सुनाई दी और उन्होंने ऊपर हेलीकॉप्टर देखा तो आनन-फानन में इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी। जानकारी होने पर आलाअफसरों के होश उड़ गए। हेलीकॉप्टर लगभग 8 बजकर 45 मिनट पर फैजाबाद की तरफ से आया और विवादित परिसर पर मंडराता हुआ आगे निकल गया।

नो फ्लाई जोन में है विवादित परिसर
गौरतलब है कि राम जन्मभूमि को लेकर चल रहे विवाद को देखते हुए इसे नो फ्लाई जोन में रखा गया है। साथ ही परिसर में हमेशा कड़ी सुरक्षा भी लगाई गई है। ऐसे में इधर न से किसी भी प्रकार की हवाई जहाज व हेलीकॉप्टर की उड़ने की अनुमति नहीं है।

जांच में जुटा प्रशासन
बेहद नजदीक से हेलीकॉप्टर उड़ने की जानकारी पर स्थानीय लोग अपने छतों पर आ गए। काले रंग का यह हेलीकॉप्टर मंडराता हुआ फैजाबाद की तरफ से आया और विवादित परिसर के ऊपर से होता हुआ आगे निकल गया। प्रशासन पता लगाने में जुटा है कि यह किसका हेलीकॉप्टर था और इस पर कौन लोग सवार थे।

प्रथम दृष्टया

माना जा रहा है कि यह किसी प्राइवेट कंपनी का हेलीकॉप्टर होगा। फिलहाल जिला प्रशासन ने उड्डयन विभाग से संपर्क कर इसके बारे में जानकारी जुटा रहा है। साथ ही राज्य सरकार और केंद्र सरकार को भी इसकी पूरी जानकारी दे दी गई है।

Loading...

Check Also

यूपी को शीघ्रता से उर्वरक सप्लाई के लिए कृषि मंत्री शाही ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन से की मुलाकात

राहुल यादव, लखनऊ : कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने उत्तर प्रदेश में डीएपी उर्वरक की ...