Breaking News

निर्यात में 2022-23 में ‘उचित स्तर’ की वृद्धि होने की संभावना: गोयल

नई दिल्ली। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि व्यापार के मोर्चे पर वैश्विक अनिश्चितताओं के बावजूद चालू वित्त वर्ष में देश के निर्यात में ‘‘उचित स्तर’’ की वृद्धि होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि स्पष्ट रूप से अंतरराष्ट्रीय व्यापार में वैश्विक मंदी के संकेत हैं और भारत सभी निर्यात संवर्धन परिषदों और बड़े निर्यातकों से बात करके घटनाक्रम पर सतर्क नजर रख रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि मौजूदा वैश्विक स्थिति में ‘‘हमारा निर्यात मूल्य प्रतिस्पर्धा और गुणवत्ता के आधार पर बढ़ेगा… हम जमीनी हकीकत के आधार पर निर्यात के अनुमानों को जांचेंगे।’

’ यह पूछने पर कि क्या मौजूदा परिस्थितियों में 2022-23 के लिए 450 अरब अमेरिकी डॉलर या 500 अरब अमेरिकी डॉलर मूल्य के माल निर्यात का लक्ष्य महत्वाकांक्षी दिखता है, उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने चालू वित्त वर्ष के लिए अभी तक कोई अंतिम आंकड़ा या निर्यात लक्ष्य तय नहीं किया है और सभी हितधारकों से परामर्श के बाद इस बारे में निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘पूरी दुनिया गंभीर चुनौतियों का सामना कर रही है, कोविड अभी खत्म नहीं हुआ है… भू-राजनीतिक स्थितियां अनुकूल नहीं हैं।

दुनिया भर में मुद्रास्फीति चिंता का विषय है, पेट्रोलियम उत्पाद अभी भी उच्च स्तर पर हैं, खाद्य सुरक्षा चिंताएं भी हैं। हमें दुनिया के कई हिस्सों में उर्वरक की कमी की सूचना भी मिली है।’’ गोयल ने कहा, ‘‘इस चुनौतीपूर्ण वक्त में सच्चाई यह है कि भारत ने खुद को संरचनात्मक रूप से तैयार किया है। निर्यात बढ़ाने के लिए हमारी बुनियादी तैयारी और क्षमता मजबूत हुई है। इसलिए पिछले साल के मुकाबले उचित स्तर की वृद्धि की उम्मीद है।’’

 

Loading...

Check Also

शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे एक दिन के बिहार दौरे पर जाएंगे, मिलेंगे तेजस्वी यादव व अन्य नेताओं से

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, मुंबई / पटना : उद्धव ठाकरे की नेतृत्व वाली शिवसेना के ...