Breaking News

दाऊजी मेले का आगाज आज, सजा परिसर

हाथरस : जिस घड़ी का इंतजार था वह आ गई है। ग्यारह माह के इंतजार के बाद ब्रज प्रसिद्ध लक्खी मेला श्रीदाऊजी महाराज का आगाज गणेश चतुर्थी यानि शुक्रवार से होने जा रही है। सुबह एनसीसी व स्काउट की रैली निकाली जाएगी। गणेश पूजन, कलश स्थापना के साथ ध्वज पूजन करके मंदिर की प्राचीर पर ध्वजारोहण भी किया जाएगा। मेला परिसर सजधज कर तैयार हो चुका है। बस इंतजार आप के आगमन का है। इस मेले की औपचारिक शुरुआत तो बल्देव छठ यानि 27 अगस्त से होगी।

राजा दयाराम के ऐतिहासिक किला परिसर में इस बार 106वां मेला आयोजित किया जा रहा है। झूले, खेल तमाशे वाले, चाट पकौड़ी वालों के अलावा महिला बाजार भी सज गया है। बिजली की झालरों से बेहतर ढंग से मंदिर की प्राचीर के अलावा पूरे परिसर को सजाया गया है। बिजली अधिकारी भी मेले को चार चांद लगाने में जी-जान से जुटे हैं। मेला परिसर में चहुंओर पुलिस की व्यापक व्यवस्था की गई है। शुक्रवार से पूरे परिसर की बिजली चालू हो जाएगी और परिसर दूधिया रोशनी से नहाएगा।

वैसे मेले की विधिवत शुरुआत 27 अगस्त को बल्देव छठ से होगी। उस दिन सुबह दाऊजी व रेवती मैया का विधि-विधान के साथ नगर के विद्वानों द्वारा दुग्धाभिषेक किया जाएगा। भव्य श्रृंगार होंगे। दोपहर बाद फूल बंगला की सजावट होगी और इस मेले का उद्घाटन किया जाएगा। इसी दिन से छह दिवसीय कुश्ती दंगल की शुरुआत होगी। इसके लिए सभी अखाड़े, उस्ताद खलीफाओं को भी निमंत्रण दे दिया गया है। इससे पूर्व ही हनुमान जी महाराज की सवारी के साथ अखाड़े का पूजन व ध्वजारोहण भी किया जाएगा। मेला परिसर में दुकानें सज चुकी हैं। झूले आदि का भी ट्रायल हो चुका है। छोटी कमियों को दूर किया जा रहा है। अधिकारियों ने भी यहां का निरीक्षण कर लिया है। इधर, मेले के शिविरों को पूरी तरह से सजाया जा चुका है। इनमें भी कार्यक्रम होंगे। मेले में ¨हद केसरी, भारत केसरी पहलवानों के आने की भी स्वीकृति मिल चुकी है। मेला परिसर में बड़ी संख्या में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं ताकि कहीं भी कोई कानून व्यवस्था से खिलवाड़ का दुस्साहस न कर सके।

Loading...

Check Also

प्रो साहा के जीवन से सीख लेकर शोधार्थी ऐसे शोध करें, जो आम आदमी के लिए ज्यादा से ज्यादा उपयोगी सिद्ध हों : केशव प्रसाद मौर्य

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, लखनऊ / प्रयागराज : मोतीलाल नेहरू इन्स्टीट्यूट आफ टेक्नालॉजी प्रयागराज में ...