Breaking News

जानिए प्रेग्नेंसी के दौरान बादाम खाने के फायदे

प्रेग्नेंसी के दौरान आप फल, सब्जियां, सूखे मेवे वगैरह अपनी डाइट में शामिल करती हैं। जो विटामिन, कैल्शियम, प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत होते हैं। लेकिन क्या आप जानती है कि बादाम भी ऐसे खाद्य पदार्थों में आता है जिसके सेवन से गर्भवती महिला को भरपूर पोषण मिलता है। बादाम का सेवन किसी भी तरह से किया जा सकता है। बादाम की तरह बादाम का दूध और बादाम का मक्खन भी लाभदायक होता है। तो चलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए बताते हैं कि बादाम का सेवन करने से आपको और आपके होने वाले बच्चे को कौन से फायदे हो सकते हैं।
मेटाबोलिक सिस्टम को बढ़ाने में करता है मदद

जिन महिलाओं में प्रेग्नेंसी के दौरान डायबिटीज और मोटापे जैसी समस्या होने की संभावना बढ़ जाती है। उन महिलाओं को बादाम का सेवन करना शुरु कर देना चाहिए। क्योंकि बादाम मेटाबोलिक रेट को बढ़ा देता है। बादाम में मौजूद कार्बोहाइड्रेट और डाइट्री फैट तनाव,सूजन और रक्त में शुगर की मात्रा को कम करने में मदद करते हैं। जो आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद हैं।

फॉलिक एसिड की कमी को पूरा करता है बादाम

बादाम फॉलिक एसिड के प्राकृतिक स्त्रोतों में से एक है। प्रेग्नेंट महिलाएं भ्रूण के बेहतर विकास के लिए बादाम का सेवन कर सकती हैं। यह बच्चे के दिमाग और न्यूरोलॉजिकल सिस्टम को विकसित करने में मदद करता है। इसलिए आप प्रेग्नेंसी के शुरुआती समय में भी बादाम का सेवन कर सकती हैं। यह बच्चे में होने वाली शारीरिक समस्याओं को रोकने के लिए न्यूरल ट्यूब के दोष को कम करता है। तो अगर आप प्रेग्नेंट हैं या गर्भधारण करने की सोच रही हैं तो फॉलिक एसिड के सप्लीमेंट बादाम का सेवन करना शुरु कर दीजिए।

बादाम से बच्चे को मिलता है आयरन

प्रेग्नेंसी के दौरान बादाम का सेवन करना फायदेमंद होता है । क्योंकि इस समय महिला को आयरन की जरुरत होती है। प्रेग्नेंसी के पहली तिमाही के दौरान आयरन की ज्यादा जरुरत होती है। इसके लिए आपको रोज बादाम का सेवन करना चाहिए। एक प्रेग्नेंट महिला को गर्भ में पल रहे शिशु की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 300 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती है। जो आप बादाम का सेवन करके पूरी कर सकती हैं।

बच्चे को एलर्जी से बचाता है

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्री नट्स यानि मूगंफली और बादाम का सेवन बच्चों में एलर्जी डिजीज होने का खतरा कम देता है। बादाम में विटामिन ई होता है जो प्रेग्नेंसी के दौरान सेवन करने से बच्चे को अस्थमा जैसी बिमारियों से बचाता है।

वजन बढ़ने से रोकता है

प्रेग्नेंसी के दौरान सबसे ज्यादा परेशानी वजन का ज्यादा बढ़ जाना होता है। दरअसल एक रिसर्च में पता चला है कि 20 महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान काफी परेशानियां हो रही थी। जिसके बाद उन्हें रोज 2 बादाम खाने के लिए दिये गये। बादाम के सेवन ने उनके भूख बढ़ाने वाले हार्मोन ग्रीलिन को कम और भूख कम करने वाले हार्मोन लेप्टिन को बढ़ा दिया। जिससे ये पता चलता है कि बादाम का सेवन करने से ना केवल भूख कम होती है बल्कि ये वजन को बढ़ने से भी रोकता है।

Loading...

Check Also

जेसीबी प्राइज फॉर लिटरेचर द्वारा पांचवे वर्ष के लिए अपनी अभी तक की सबसे विविध अंतिम चयन सूची की घोषणा

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, कोलकाता : जेसीबी प्राइज फॉर लिटरेचर ने आज शहर के ग्लेनबर्न ...