Breaking News

धर्मनिरपेक्षता और सामाजिक न्याय की विचारधारा को मजबूत करना है और 2024 में भाजपा को उखाड़ फेंकना है: लालू यादव

अनुपूरक न्यूज एजेंसी, पटना। जगदानन्द सिंह दूसरी बार बिहार का प्रदेश अध्यक्ष बने. राष्ट्रीय जनता दल का राष्ट्रीय जनता दल के नवगठित राज्य परिषद की बैठक डाॅ0 लोहिया-कर्पूरी सभागार राष्ट्रीय जनता दल राज्य कार्यालय के प्रांगण में राज्य निर्वाचन पदाधिकारी डाॅ0 तनवीर हसन की अध्यक्षता में हुई तथा संचालन सहायक राष्ट्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी चितरंजन गगन ने किया। डाॅ0 तनवीर हसन ने प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं, जिसकी विधिवत घोषणा आज की जा रही है। और सभागार में उपस्थित सभी राज्य परिषद के सदस्यों से इसकी स्वीकृति हेतु प्रस्ताव दिया गया जिसे सर्वसम्मति से सभी लोगों ने राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह के घोषणा पर हाथ उठाकर सर्वसम्मति से सहमति प्रदान की और राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद, वरिष्ठ नेता शरद यादव एवं उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव की उपस्थिति में प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह को प्रमाण पत्र दिया गया। साथ ही राष्ट्रीय अध्यक्ष के परामर्श से राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों के मनोनयन तथा राज्य कार्यकारिणी के सदस्यों के मनोनयन हेतु प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह को अधिकृत करने संबंधित प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया।

राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि पूरी मजबूती के साथ धर्मनिरपेक्षता और सामाजिक न्याय की विचारधारा को मजबूती प्रदान करना है और इसको कायम रखने के लिए हमें अपने संकल्पों पर आगे बढ़ना है। 2024 में इसी संकल्प के साथ भाजपा को उखाड़ फेंकना है। हमने कभी भी भाजपा से समझौता नहीं किया और अपने विचारधारा पर मजबूती के साथ आगे बढ़े जिस कारण आज हमें सफलता मिली और बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी।

किशनगंज, अररिया, पूर्णियां जैसे इलाके में अमित शाह किस मंशा से आ रहे हैं यह हमसभी को समझना होगा क्योंकि इनके मन में काला है। और जैसी डिजाईन बनायी जा रही है उसके लिए सभी को सजग रहना होगा। नीतीश इस मामले में सजग हैं और वो सारे मामले को तेजस्वी जी के साथ मिलकर देख रहे हैं। भाजपा के पाखंड और साम्प्रदायिक सोच से बचना होगा। आज मस्जिदों पर भगवा झंडा फहराकर साम्प्रदायिककरण करने का प्रयास चल रहा है, इससे बचने के लिए हम सभी सजग रहें और उसके लिए राजद और महागठबंधन के सभी नेता वैसी नीतियों के खिलाफ इकट्ठे होकर सामना करें और पूरी शांति के साथ ऐसे तत्वों को बेनकाब करें जो देश को कमजोर करना चाहती है।

इन्होंने आगे कहा कि पन्द्रह लाख खाते में और हर साल दो करोड़ नौकरी देने की बात करने वाली भाजपा सिर्फ नफरत के सहारे माहौल खड़ा करना चाहती है। इसके लिए मुद्दों के साथ भाजपा की राजनीति को रोकना होगा। नीतीश अच्छा काम कर रहे हैं और वो हमेशा हमसे राय लेते रहते हैं। उनके द्वारा देश स्तर पर जो जोड़ने का अभियान चल रहा है यह बहुत ही बेहतर कदम है और सभी को जोड़ना होगा। इन्होंने कहा कि सोनिया से राहुल गांधी की यात्रा के बाद हम और नीतीश मिलेंगे साथ हीं देश में भाजपा के खिलाफ मजबूत विकल्प खड़ा करेंगे। सभी को पता है कि जिलाध्यक्षों की घोषणा के लिए आप सभी ने मुझे अधिकृत किया है। मैं सभी से राय मशविरा करके घोषणा करूंगा। हम और शरद मिलकर मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू करवाने के लिए जो योगदान दिया है सभी को पता है। उसको मजबूती प्रदान करना है और सभी को सम्मान देने की नीति पर आगे बढ़ना है। इधर मीडिया का रौल भी कुछ ठीक नहीं चल रहा है, इसमें जो मीडिया औद्योगिक घरानों के इशारे पर चल रहे हैं उसके कारण ऐसी स्थिति है और दिन भर सिर्फ मोदी-मोदी की बात हीं की जा रही है जबकि मीडिया को निष्पक्ष होना चाहिए। पार्टी की नीतियों और कार्यक्रमों को मजबूती से आगे बढ़ाने के लिए जगदा भाई राज्य का दौरा करें और इसमें पार्टी के सभी नेता शामिल हों।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद यादव ने कहा कि बिहार से हीं जयप्रकाश नारायण ने आन्दोलन शुरू किया था और यहां से सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने जो योगदान दिया है उसे भुलाया नहीं जा सकता है। बिहार में युवा नेतृत्वकर्ता के तौर पर तेजस्वी का भविष्य है और यह अपने कामों से बिहार में इतिहास लिखेंगे।

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि आज हमसभी लोग पूर्व मुख्यमंत्री स्व0 भोला पासवान शास्त्री जी को नमन करते हैं और उनके आदर्श विचारों को आगे बढ़ाने का संकल्प लेते हैं।

इन्होंने जगदानन्द सिंह (जगदा बाबू ) को दूसरी बार प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित होने पर बधाई देते हुए कहा कि सभी की जिम्मेवारी है कि मिलकर पार्टी को मजबूत बनाना है और जनता को मान-सम्मान के साथ उनके लिए हमसभी को तत्पर भी रहना होगा और हमारा जो प्रण है युवाओं को नौकरी और रोजगार का उसकी शुरूआत दिनांक 20 सितम्बर, 2022 से शुरू कर दी गई है जो निरंतर आगे बढ़ेगा और युवाओं के चेहरे पर मुस्कान लाने के संकलप को महागठबंधन सरकार नीतीश के नेतृत्व में आगे बढ़ायेगा।

इन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनता दल भारत का पहला ऐसा पार्टी है जिसने अपने संगठन में आरक्षण की व्यवस्था की है और उनको हर स्तर पर मान-सम्मान देने का काम किया है। जब तक हम गरीबों को मान-सम्मान नहीं देंगे तब तक हम लालू जी और शरद जी के विचारों को मजबूत नहीं कर सकते हैं क्योंकि इन लोगों ने हमेशा गरीबों और झोपडि़यों में रहने वाले के बीच जाकर उनसे अपनी जुड़ाव रखी और उन्हें हर स्तर पर सम्मान दिया। लालू जब मुख्यमंत्री थे तब झोपडि़यों में जाकर गरीबों से रोटी मांगकर उनके साथ खाते थे जिससे उन्हें अपनापन का एहसास होता था और उन्हें लगता था कि मेरे बीच के सोच वाला नेता बिहार का मुख्यमंत्री हैं।

इन्होंने आगे कहा कि पार्टी के संगठन और अध्यक्ष के सम्मान का मंत्री और विधायक को ख्याल रखना होगा और यह मान कर चलना होगा कि संगठन को बिना महत्व दिये पार्टी को मजबूत नहीं किया जा सकता है क्योंकि जब संगठन के काम करने वालों को सम्मान देंगे तो उससे पार्टी और संगठन को मजबूती मिलेगी क्योंकि जो आज मंत्री और विधायक हैं वो भी कल पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता रहे हैं और इस संतुलन को बनाये रखकर संगठन को मजबूत किया जा सकता है। गणेश परिक्रमा करने वालों को पार्टी में सम्मान नहीं दिया जा सकता है क्योंकि जो लोग मेरे कार्य संस्कृति को जानते हैं उन्हें पता है कि मैं ऐसी चीजों को पंसद नहीं करता हंू। 40 में 40 लोकसभा सीट जीतने के लक्ष्य को लेकर महागठबंधन और राजद के सभी नेताओं को काम करना होगा क्योंकि कोई भी चीज एक दिन में नहीं बदल जाती है।

तेजस्वी ने आगे कहा कि हम भाजपा की राजनीति को जिस तरह से बिहार में हमसभी सातों दलों के नेताओं ने मिलकर बेदखल किया है उसी तरह से केन्द्र में भी सभी को मिलकर 2024 के लोकसभा चुनाव में रोकने के लिए काम करना है। भाजपा पूरे देश भर में विपक्षी दलों के सरकारों को गिराकर सत्ता हासिल करती रही है लेकिन बिहार पहला राज्य है जिसने भाजपा को सत्ता से बेदखल किया है जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और सभी विपक्षी दलों की महत्वपूर्ण भमिका रही है। यहां सभी दल एक साथ हैं, वहीं भाजपा अकेले खड़ी है। जितनी मेरी भूमिका है उतनी ही आपसभी की भी है। दबंगई और हुड़दंग से बचना होगा और शांति से भाजपा को जवाब देना होगा। इन्होंने प्रस्ताव दिया कि हर बैनर और पोस्टर में कबीर जी और रविदास जी का चेहरा दिखनी चाहिए क्योंकि इनके संकल्पों को लेकर ही हम बड़ी लड़ाई लड़ सकते हैं। स्वास्थ्य व्यवस्था के सुधार की दिशा में हम निरंतर काम कर रहे हैं और आम गरीब और मरीज के लिए हमारी सरकार का जो संकल्प है उसको पूरा किया जायेगा।

इन्होंने आगे कहा कि अमित शाह बिहार आ रहे हैं तो उन्हें बिहार को विशेष पैकेज, विशेष राज्य का दर्जा और बिहार को आर्थिक सहायता की घोषणा करनी चाहिए क्योंकि जिस इलाके में आ रहे हैं वहां बाढ़ से लोग पीडि़त हैं। भाजपा आज महंगाई, नौकरी और महिलाओं के सम्मान को भुला दी है जिस कारण देश में जिस तरह का वातावरण खड़ा किया जा रहा है उसको रोकने के लिए हमसभी अपनी जिम्मेदारी निभायेंगे और शांतिपूर्वक भाजपा के फार्मूले को नाकाम करेंगे।

नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह ने कहा कि बहुत कमजोरियों के हम शिकार हैं। हमारी कमजोरियां झोपड़ी और गरीबों के मनों को टूटने न दें इस पर हमें विशेष ध्यान देना है। साथ ही लालू प्रसाद ने मुख्यमंत्री रहते हुए गरीबों कमजोरों, वंचितों, दलितों, अतिपिछड़ों सहित सभी वर्गों को जो पढ़ने के प्रति पे्ररणा दी थी उस अलख को जगाये रखना है और उनके उस नारे पढ़ो या मरो को साकार करने के लिए गरीबों और झोपडि़यों में रहने वाले तक शिक्षा को ले जाने के लिए मजबूती से काम करना होगा। इन्होंने कहा कि तेजस्वी विरासत की राजनीति को संभालते हुए भविष्य की योजना को आगे बढ़ा रहे हैं उसमें हमसभी को सहभागी बनना होगा। साथ ही जो लोग जगे हुए हैं उन्हें सोने नहीं देना है क्योंकि एक बड़ी लड़ाई 2024-2025 के लिए हमसभी को मिलकर लड़ना होगा और महागठबंधन को केन्द्र तथा राज्य में मजबूत करने के अभियान में लगना होगा।

इस अवसर पर राष्ट्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी उदय नारायण चौधरी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी, राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अब्दुलबारी सिद्दिकी, विधान परिषद के उप सभापति डाॅ0 रामचन्द्र पूर्वे, राष्ट्रीय महासिचव जय प्रकाश नारायण यादव, श्याम रजक, भोला यादव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री डाॅ0 कांति सिंह, देवेन्द्र प्रसाद यादव, सांसद मो0 अशफाक करीम, प्रदेश प्रधान महासचिव सह मंत्री आलोक कुमार मेहता, सुरेन्द्र यादव, ललित कुमार यादव, डाॅ0 शमीम अहमद, प्रो0 चन्द्रशेखर, सुधाकर सिंह, समीर कुमार महासेठ, कुमार सर्वजीत, जितेन्द्र कुमार राय, सुरेन्द्र राम, मो0 इसराइल मंसुरी, मो0 शहनवाज, प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह, वृषिण पटेल, शिवचन्द्र राम, सुरेश पासवान, पूर्व सांसद सुखदेव पासवान, विश्व मोहन कुमार मंडल, पार्टी के सभी विधायक, प्रदेश प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव, एजाज अहमद, सुबोध कुमार मेहता, कार्यालय संगठन महासचिव राजेश यादव, मदन शर्मा, आजाद गांधी, मो0 फैयाज आलम कमाल, बल्ली यादव, धर्मेन्द्र पटेल, निराला यादव, भाई अरूण कुमार, डाॅ0 पे्रम कुमार गुप्ता, प्रमोद कुमार राम, निर्भय कुमार अम्बेकर, संजय यादव, डाॅ0 कुमार राहुल सिंह, आनंद कुमार यादव उर्फ नन्दू यादव, बिनोद यादव, प्रशांत कुमार मंडल, पी0 के0 चैधरी, विजय कुमार यादव, मो0 कारी सोहैब, डाॅ0 उर्मिला ठाकुर, अनिल कुमार साधु, प्रमोद कुमार सिन्हा, चन्देश्वर प्रसाद सिंह, जेम्स कुमार यादव, अरूण कुमार यादव सहित राज्य परिषद के सभी सदस्य उपस्थित थे।

नेताओं का स्वागत सहायक राज्य निर्वाचन पदाधिकारी ई0 अशोक यादव, श्रीमती सारिका पासवान ने की जबकि देवकिशुन ठाकुर ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

Loading...

Check Also

लालू राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित घोषित

अनुपूरक न्यूज एजेंसी, नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल के सांगठनिक सत्र 2022 – 2025 के ...