Breaking News

कोविड-19: ऋतिक रोशन ने 100 बॉलीवुड डांसरों लिए बढ़ाया मदद का हाथ

कोविड-19 महामारी के कारण दुनिया रुक सी गई है। कई व्यवसाय सहित मनोरंजन उद्योग भी लॉकडाउन की मार झेल रहा है। ऐसे इस कठिन समय में अभिनेता ऋतिक रोशन उन लोगों की मदद करने के लिए सबसे आगे रहे हैं, जिन्हें इसकी सख्त जरूरत है। वर्तमान में प्रोजेक्ट्स की शूटिंग पर रोक लगी हुई है और दिहाड़ी मजदूर व सामूहिक डांस करने वाले सबसे अधिक प्रभावित हैं।

बॉलीवुड के जाने-माने कोरियोग्राफर, बॉस्को से यह जानने पर, ऋतिक रोशन ने उन 100 बॉलीवुड डांसरों के खातों में पैसा जमा किए हैं, जिनके साथ वे अतीत में कहीं ना कहीं काम और परफॉर्म कर चुके हैं।

बॉलीवुड गानों के डांसर कॉर्डिनेटर राज सुरानी ने साझा किया, “ऋतिक रोशन ने इस कठिन समय में 100 डांसर्स की सहायता की है। उनमें से कई अपने गांव लौट चुके हैं, जबकि कुछ को कमरे के किराए का भुगतान करने में मुश्किल हो रही है और एक डांसर का परिवार कोविड-19 के लिए पॉजिटिव पाया गया है, ऐसे में इन सभी के लिए ऋतिक रोशन की मदद बहुत ही महत्वपूर्ण समय पर आई है।”

उन्होंने कहा, “बैकग्राउंड डांसर्स खुशी से अभिभूत थे, जब उन्हें एसएमएस मिला जिसमें लिखा गया था कि ऋतिक रोशन द्वारा उनके बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर किए गए हैं। कोविड संकट के दौरान उनके समर्थन के लिए सभी डांसर्स उनके बेहद आभारी हैं।” कृतज्ञता और प्रशंसा से भरे, इन डांसर्स ने अपने सोशल मीडिया पर इस समर्थन के लिए सुपरस्टार को धन्यवाद कहा है।

सुरानी ने कहा कि जब से महामारी ने तबाही मचाना शुरू किया है, ऋतिक अपने समय और संसाधनों का दान कर रहे हैं। चाहे वह बीएमसी कार्यकर्ताओं और कार्यवाहकों के लिए एन95 और एफएफपी 3 मास्क दान करना हो या गैर-लाभकारी संगठन ‘अक्षय पात्र’ के साथ हाथ मिलाना हो, जरूरतमंदों को भोजन प्रदान करना और असमर्थ लोगों के लिए 1.2 लाख भोजन की सुविधा के मुहैया करवाना हो, उन्होंने हर संभव तरीके से लगातार मदद की है।

ऋतिक उद्योग के पपराजी कम्युनिटी के लिए मदद का हाथ बढ़ाने वाले पहले व्यक्ति हैं, जिनकी अभिनेता ने पैसों से मदद की थी। वह ‘आई’ फॉर इंडिया पहल का भी हिस्सा थे, जिसने प्रभावितों के लिए दान इकट्ठा करने पर ध्यान केंद्रित किया था।

Loading...

Check Also

प्रकाश झा की इस वेब सीरीज से वेब प्लेटफॉर्म पर डेब्यू करेंगे बॉबी देओल, जारी हुआ टीजर

इन दिनों जहां कोरोना काल में फिल्में सिनेमाघरों तक नहीं पहुंच पा रही हैं, वहां ...