Breaking News

आजमगढ़ जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

आजमगढ़ में जहरीली शराब से 30 लोगों की मौत के मुख्य आरोपी मुलायम यादव सहित 10 लोगों को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। इन पर पुलिस को धमकी देने का भी आरोप है।

वहीं इस बड़ी कामयाबी पर यूपी के डीजीपी सुलखान सिंह ने शराब माफिया मुलायम यादव को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है। मुबारकपुर के करवां का रहने वाला मुबारक यादव वर्ष 2013 में जहरीली शराब से 53 लोगों की मौत का जिम्मेदार था।

पुलिस ने उसके साथ पिंटू यादव को भी गिरफ्तार किया है। आजमगढ़ के एसपी अजय साहनी और एसपीआरए नरेंद्र प्रताप सिंह ने आज संवाददाता सम्मेलन कर बताया कि शराब माफिया के कब्जे से स्कार्पिओ गाड़ी, वैगन आर कार और 503 पाउच जहरीली शराब बरामद हुई है।

मुलायम ने एसओ मुबारकपुर को धमकी दी थी कि वह उनके पीछे न पड़ें। इससे पहले रौनापार थाना क्षेत्र के केवटहिया गांव में जहरीली शराब पीने से बीमार हुए वृद्ध की इलाज के दौरान शुक्रवार की सुबह जिला अस्पताल में मौत हो गई। वृद्ध की मौत के बाद शराब पीने से अब कुल 30 लोगों की मौत हो गई।

इससे पहले रौनापार थाना क्षेत्र के ओढऱा सलेमपुर गांव निवासी फुलवासी देवी पत्नी स्व. रामअवध ने गुरुवार को थाने में तहरीर देकर जहरीली शराब की सप्लाई करने वालों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई।

इसमें मुबारकपुर थाना क्षेत्र के केरमा गांव निवासी मुलायम यादव, रौनापार थाना क्षेत्र के ओड़रा सलेमपुर गांव निवासी बलराम पासवान, खुज्जु, इसी थाने के नेवादा गांव निवासी रामाश्रय साहनी, महातम यादव, जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के करैली गांव निवासी मनीका यादव, बिलरियागंज थाना क्षेत्र के बरोही फत्तेपुर गांव निवासी राममिलन चौरसिया को आरोपित किया है।

Loading...

Check Also

रोशन जैकब को खनन प्रक्रिया में “माइन मित्रा,” डिजिटल प्रणाली डेवलप करने लिए मिला नेशनल गोल्ड एवार्ड

अनुपूरक न्यूज़ एजेंसी, लखनऊ : प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग, भारत सरकार द्वारा डिजिटल ...