Breaking News

असम में बाढ़ की तबाही, डेढ़ लाख लोग बेघर, अब तक 186 लोगों की गई जान

असम। असम में बाढ़ का कहर लगातार जारी है। बाढ़ से मची तबाही के कारण वहां सामान्य जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। बाढ़ के चलते लाखों लोगों को अपना घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा है। वहीं अब बाढ़ के हालात में कुछ सुधार देखने को मिला है। हांलाकि कि कल भी असम में बाढ़ के चलते दो लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

जिसके बाद असम में बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर अब 186 हो गई है। ताजा जानकारी के मुताबिक असम के 15 जिलों में 9.68 लाख से भी ज्यादा लोग बाढ़ के कारण प्रभावित हुए हैं। वहीं मंगलवार 5 जुलाई को असम के 16 जिलों में 11.17 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित थे।

असम में बाढ़ का कहर बरकार है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बाढ़ के हालातों पर जानकारी देते हुए बताया कि, बुधवार को बाढ़ के कारण असम के दो जिलों कामरूप और नगांव में दो बच्चों की मौत हो गई. बता दें कि असम में बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित जिला कछार है। अकेले कछार जिले में बाढ़ से 5.7 लाख लोग प्रभावित हैं। कछार के बाद बाढ़ से दूसरा सबसे प्रभावित जिला नगांव है जहां पर 1.89 लाख मुश्किलों का सामना कर रहे हैं।  वहीं बाढ़ से मोरीगांव के 1.58 लाख लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

 

Loading...

Check Also

स्वच्छता न सिर्फ हर सरकारी योजना का बल्कि नागरिकों की जीवन शैली का भी मूलभूत सिद्धांत बन गया है : हरदीप एस पुरी

स्वच्छता ही सेवा-2023 का शुभारम्भ हुआ सूर्योदय भारत समाचार सेवा : स्वच्छ भारत मिशन भी ...