Breaking News

मेरी हत्या की साजिश रच रही है भाजपा : मायावती

मेरठ। बसपा (बहुजन समाज पार्टी) की मुखिया मायावती सोमवार को मेरठ में भाजपा पर जमकर बरसी। उन्होंने मंच से कहा कि बीजेपी की केंद्र और प्रदेश की सरकार दलित, पिछड़ा और व्यापारी विरोधी है। बीजेपी के लोग चुप नहीं बैठे, दलित वोट बैंक को तोड़ने के लिए एक दलित को राष्ट्रपति बना दिया। रैली में मायावती ने यह कहकर सबको चौंका दिया है कि बीजेपी उनकी हत्‍या की साजिश रच रही थी।

 

वहीं उन्होंने सहारनपुर हिंसा की याद दिलाई। कहा 18 जुलाई 2017 को शब्बीरपुर गांव के मुद्दे पर बोलना शुरू किया तो उन्होंने मुझे बोलने नहीं दिया। मायावती ने आरोप लगाया कि सभी मंत्री और नेताओं ने हंगामा शुरू कर मुझे बोलने नहीं दिया। जिसके चलते लोगों के हितों को देखते हुए मैंने राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया।

उन्‍होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में वोटिंग मशीन में गड़बड़ी कर भाजपा ने हमारी पार्टी को नुकसान पहुंचाया है। सोची समझी रणनीति के तहत ईवीएम में गड़बड़ी कर सबसे ज्यादा नुकसान बसपा को पहुंचाया गया।

मायावती ने शब्बीरपुर हिंसा को भाजपा की सोची समझी साजिश बताया। उन्‍होंने कहा कि शब्बीरपुर में भाजपा नेताओं ने भड़काऊ और उत्तेजना वाले भाषण देकर घटना को और बड़ा कर दिया था। मायावती ने कहा कि मेरी हत्या का भी प्लान बनाया हुआ था जिसमें सफल नहीं हो सके।

वहीं मायावती ने यह भी कहा कि चाहे बीजेपी की वोट से या हमारी वोट से लेकिन, एक दलित को राष्ट्रपति बनाने का सपना पूरा हो गया।

उत्तर प्रदेश में पुलिस भर्ती पर बोलते हुए कहा कि पहली बार हमने ईमानदारी से भर्ती की थी।

उन्होने मंच से कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार की तरह यूपी में योगी सरकार भी हवा-हवाई साबित हुई है। यूपी में कानून व्यवस्था का बुरा हाल है। भ्रष्टाचार बढ़ गया है। कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ मजाक किया जा रहा है। शिक्षामित्रों के मामले में प्रदेश सरकार की नियत साफ होती तो उन्हें रोजगार देती।

मायावती बोलीं कि भाजपा की सरकार आज दलितों और ओबीसी का आरक्षण खत्म करना चाहती है। उन्‍होंने कहा कि भाजपा की सरकार आज दलितों और ओबीसी का आरक्षण खत्म करना चाहती है।

मायावती ने कहा कि भाजपा के समय में राजनीति का अपराधीकरण हो गया है। पुलिस बदमाशों को पकड़कर लाती है और भाजपा के लोग थानों से उनको जबरन छुड़ाकर ले जाते हैं। गौरक्षा के नाम से लोगों पर जुल्म किया जा रहा है। दहशत में लोगों ने गाय खरीदना और बेचना ही बंद कर दिया है।

बढ़ती महंगाई पर चिंता जताते हुए बसपा प्रमुख ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के फैसलों से देश की जनता त्रस्त है। उन्होने कार्यकर्ताओं से कहा कि भाजपा को फिर से सत्ता में आने से रोकने के लिए आरएसएस के एजेंडे से समाज को अवगत कराएं। भाजपा के साम, दाम, दंड, भेद और उनके हवा हवाई वादों से सावधान रहें।

Loading...

Check Also

सीएमएस अलीगंज कैम्पस द्वारा ‘वार्षिक अभिभावक दिवस’ समारोह भव्य आयोजन

नीरजा चौहान, लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (प्रथम कैम्पस) द्वारा ‘एनुअल पैरेन्ट्स डे’ समारोह ...