Breaking News

अब जगदगुरु फलाहारी बाबा पर युवती ने दर्ज कराया दुष्‍कर्म का आरोप

बिलासपुर। राजस्थान के अलवर जिले के एक नामचीन बाबा जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नााचारी फलाहारी महाराज के खिलाफ छत्तीसगढ के बिलासपुर निवासी युवती ने दुष्कर्म का अपराध दर्ज कराया है। बिलासपुर के महिला थाने में बाबा के खिलाफ दुष्कर्म का अपराध दर्ज कर केस डायरी अलवर पुलिस के पास भेजी गई है। अब फलाहारी बाबा को भी पुलिस गिरफ्तार करने की तैयारी में है!

अरावली थानाधिकारी हेमराज मीणा ने आज बताया कि बिलासपुर की 21 साल की वकालत का अध्ययन कर रहीं पी​ड़िता ने बिलासपुर थाने में  फलाहारी महाराज के खिलाफ अलवर आश्रम में यौनशोषण करने की शिकायत की थी। बिलासपुर पुलिस ने जीरो प्राथमिकी अरावली थाने भेजी थी जिस पर मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। फलाहारी महाराज के अलवर में काफी इलाके में फैला आश्रम है। स्कूल, धर्मशाला संचालित हैं और देश-विदेश में लाखों अनुयायी हैं। आरोपी अन्न का सेवन नहीं कर केवल फलों का ही सेवन करने की वजह से फलाहारी बाबा के नाम से पहचाना जाता है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।फलाहारी महाराज से पूछताछ के लिए पुलिस के उनके आश्रम पहुंचने पर अलवर के एक निजी अस्पताल में भर्ती होने की सूचना मिली। पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर महाराज का उपचार कर रहे चिकित्सक से बातचीत की है। चिकित्सक की मंजूरी मिलने के बाद आरोपी से पूछताछ की जाएगी। मीणा ने बताया कि आरोपी महाराज का पीड़िता के घर बिलासपुर में लंबे समय से आना जाना है।                                                                                                                                               शुरुआती जांच में सामने आया है कि पीड़िता कानून की पढ़ाई के दौरान बीते 7 अगस्त को उनके आश्रम गयी थी।                                 उन्होंने बताया कि महाराज ने उसी दिन अपने एक शिष्य की मदद से पीडिता को अपने कक्ष तक बुलाया और उसके साथ यौन शोषण किया।  पीड़िता ने काफी दिनों तक परिजनों को यह जानकारी नहीं दी। लेकिन वह काफी परेशान रहने लगी. इस पर परिजनों ने कारण जानना चाहा तो उसने आप-बीती सुनायी।

Loading...

Check Also

रोशन जैकब को खनन प्रक्रिया में “माइन मित्रा,” डिजिटल प्रणाली डेवलप करने लिए मिला नेशनल गोल्ड एवार्ड

अनुपूरक न्यूज़ एजेंसी, लखनऊ : प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग, भारत सरकार द्वारा डिजिटल ...