Breaking News

दो नाबालिग छात्राओं की हत्या ,एक लापता,दरोगा सस्पेंड

कानपुर देहात। जनपद कानपुर देहात में आज उस समय सनसनी फैल गई जब दो नाबालिग छात्राओं के शव सोशल मिडिया पर उनके परिजनों ने देखा। छात्राओं के शव जनपद इटावा के थाना सहसो क्षेत्र में क्वारी नदी के पुल के नीचे बरामद हुए। लापता छात्राओं के परिजनों ने छात्राओं की हत्या की बजह पुलिस की लापरवाही बताई।

 

पूरा मामला अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र के रनिया चौकी इलाके का है। जहां क्षेत्रीय इंटर कॉलेज फत्तेपुर रोशनाई में कक्षा 11 में पढ़ने वाली नाबालिक तीन छात्राएं रहस्यमई ढंग से लापता हो गईं। देर शाम तक छात्राओं के न लौटने पर उनके परिजन इंटर कॉलेज पहुंचे। जहां पता चला कि तीनों छात्राएं कॉलेज में नहीं पहुंचीं। सकते में आए परिजन काफी खोजबीन के बाद रनिया चौकी पुलिस से मदद के लिए पहुंचे।
आरोप है कि रनिया चौकी पर मौजूद दरोगा ने परिजनों की एक न सुनी और मामले को टालते हुए वापस भेज दिया। लेकिन बुधवार शाम करीब दो बजे जनपद इटावा थाना सहसो क्षेत्र की क्वारी नदी के पुल के नीचे दो अज्ञात छात्राओं के शव विक्षिप्त अवस्था में मिले, जिनकी शिनाख्त नहीं हो सकी। इटावा पुलिस ने शव को शव गृह इटावा में भेज दिया।

सोशल मीडिया पर परिजनों को पता चला
आज सुबह छात्राओं के शवों को सोशल मिडिया के द्वारा लापता छात्राओं के परिजनों ने देखा तो परिजन शवों की शिनाख्त के लिए जनपद इटावा पहुंचे, जहां पर पिता ने एक शव की शिनाख्त अपनी 16 वर्षीय पुत्री के रूप में की। वहीं, एक अन्य पिता अपनी पुत्री के शव के हालत देख कर शिनाख्त नहीं कर पाए। फिलहाल एक अन्य छात्रा का कोई भी सुराग अभी तक नहीं लग पाया।

लापरवाह दरोगा निलंबित
मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक दिनेश पाल सिंह ने एक पिता की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया है। इसके साथ ही रनिया चौकी में तैनात लापरवाह दरोगा राम कृष्ण गंगवार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। फिलहाल पूरे मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़े होते दिख रहे हैं।

Loading...

Check Also

सीएमएस अलीगंज कैम्पस द्वारा ‘वार्षिक अभिभावक दिवस’ समारोह भव्य आयोजन

नीरजा चौहान, लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (प्रथम कैम्पस) द्वारा ‘एनुअल पैरेन्ट्स डे’ समारोह ...