Breaking News

शिवराज के बगावती तेवर, कर रहे हैं पीएम का ‘विरोध’

भोपाल। नरेंद्र भाई मोदी भले ही प्रधानमंत्री बन गए हों परंतु गुजरात का दर्जा अन्य राज्यों की तुलना में उनके लिए कुछ अलग है। वो अपने जन्मदिवस के अवसर पर गुजरात के लिए सबसे फायदेमंद सरदार सरोवर बांध का लोकार्पण करेंगे, लेकिन इस कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह नहीं जाएंगे। अब सवाल यह उठाए जा रहे हैं कि क्या सीएम शिवराज सिंह भी सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ाए जाने से नाराज हैं। कमजोर थे, इसलिए कुछ कर नहीं पाए परंतु लोकार्पण से किनारा करके जनता में अपना संदेश साफ कर रहे हैं।
लोकर्पण के बाद नर्मदा नदी पर बने इस बांध की ऊंचाई 122 मीटर से बढ़ाकर 139 मीटर किए जाने का रास्ता खुल जाएगा। नर्मदा बचाओ आंदोलन का आरोप है कि बांध की ऊंचाई सिर्फ गुजरात को लाभ पहुंचाने के लिए बढ़ाई जा रही है। इससे मध्यप्रदेश की नर्मदा घाटी के 192 गांव और एक शहर के 40 हजार परिवार प्रभावित हो गए हैं। नर्मदा बचाओ आंदोलन ने भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपील की थी कि वो सरदार सरोवर की ऊंचाई का विरोध करें एवं 17 सितंबर को गुजरात में आयोजित समारोह में हिस्सा ना लें।

 

नर्मदा डूब प्रभावितों का पुनर्वास कराने में नाकामी का आरोप झेल रहे सीएम शिवराज सिंह ने तय किया है कि वो इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। आधिकारिक तौर पर कहा गया है कि शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर आयोजित तीन कार्यक्रमों में व्यस्त रहेंगे, इसलिए वे लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे।

Loading...

Check Also

“BJP पहले डर फैलाती है, फिर इसे हिंसा में बदल देती है” : राहुल गाँधी

सूर्योदय भारत समाचार सेवा, बोदरली – बुरहानपुर : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई वाली ...